सिलक्यारा टनल में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, इतने मीटर तक मलबा निकाला गया

मजदूरों की निकालने के लिए 86 मीटर वर्टिकल ड्रिलिंग होगी. ऑगर मशीन के फेल हो जाने से वर्टिकल ड्रिलिंग का फैसला हुआ.गुरुवार तक 41 फंसे मजदूरों को निकाला जा सकता है.

उत्तरकाशी- सिलक्यारा टनल में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. मजदूरों को निकालने के लिए हर कोशिश की जा रही है. ताजा जानकारी के मुताबिक सिलक्यारा टनल में 42 मीटर वर्टिकल ड्रिलिंग पूरी की गई है.12 रैट माइनर्स ने भी 5 मीटर मलबा निकाला है. सिलक्यारा टनल में 41 मजदूरों को 16 दिन से ज्यादा का समय हो गया है.12 नवंबर को निर्माणाधीन सुरंग का एक हिस्सा ढह गया था.इन्हें निकालने के लिए 16 दिन से रेस्क्यू चल रहा है.रैट होल माइनिंग एक्सपर्ट की मदद से वर्टिकल ड्रिलिंग हो रही.मजदूरों की निकालने के लिए 86 मीटर वर्टिकल ड्रिलिंग होगी. ऑगर मशीन के फेल हो जाने से वर्टिकल ड्रिलिंग का फैसला हुआ.गुरुवार तक 41 फंसे मजदूरों को निकाला जा सकता है. रेस्क्यू दल टनल के ऊपर 1 मीटर चौड़ा रास्ता बना रहा है.हॉरिजेंटल ड्रिलिंग के लिए 2 निजी कंपनियां लगाई गईं.कल मौके पर पहुंचे पीएम के प्रमुख सचिव ने बात की थी.

अंदर फंसे मजदूरों से पीके मिश्रा ने बात की थी.रेस्क्यू ऑपरेशन की पल-पल की जानकारी PMO ले रहा है.CM धामी भी लगातार इंजीनियरों से अपडेट ले रहे हैं.

इसी के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन को लेकर सीएम धामी की भी ओर से बयान दिया गया है. उत्तरकाशी में सीएम पुष्कर सिंह धामी रेस्क्यू स्थल का जायजा लिया.

CM धामी ने कहा कि उत्तरकाशी में तेजी से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है.सुरंग में सब ठीक है, जल्द वापसी होगी. सुरंग के अंदर मैन्युअल ड्रिलिंग में तेजी आ गई है.52 मीटर तक ड्रिलिंग हो चुकी है.सीमेंट को अभी काटा जा रहा है.जल्दी मजदूरों को निकालने की उम्मीद है.

Related Articles

Back to top button
Live TV