गणतंत्र दिवस परेड में राजपथ पर दिखेंगी उत्तर प्रदेश समेत 12 राज्यों की झाकियां..

एक तरफ देश आजादी का 75 वां अमृत महोत्सव बना रहा है वहीं इस बार गणतंत्र दिवस के मौके पर 26 जनवरी को राजपथ परेड के दौरान निकलने वाली झांकियां बेहद खास होने वाली हैं क्योंकि इन सभी झांकियों की थीम आजादी के अमृत महोत्सव के ऊपर रखी गई है पर इस बार 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की जाकियाँ शामिल होंगी। 9 मंत्रालयों की झांकीयां भी राजपथ पर प्रदर्शित की जाएगी। मेघालय, गुजरात, गोवा, हरियाणा, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, पंजाब, महाराष्ट्र, कर्नाटक, जम्मू कश्मीर की झांकी राजपथ पर शामिल होंगी। सभी की झांकियों की थीम आजादी के अमृत महोत्सव पर आधारित होगी।

गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर के उत्तरप्रदेश में काशी विश्वनाथ के दर्शन होंगे एक जनपथ एक उत्पाद होगी। वहीं पंजाब की झांकी में स्वतंत्रता सेनानियों की झलक दिखेगी। मेघालय की झांकी में इस बार 50 साल के स्टेट हुड, इसकी झांकी में बेम्बू, हैंडी क्राफ्ट के प्रोडक्ट्स औऱ महिलाओं की कॉपरेटिव सोसाइटी को दिखाया जाएगा। गुजरात की झांकी में इसकी थीम ट्राइबल रेवलुशनरी है। गोवा की झांकी में नेचुरल इंस्ट्रक्शन दिखाया गया है। हेरिटेज क्लचर भी दिखाया गया है।

हरियाणा की झांकी में हरियाणा नम्बर 1 इन स्पोर्ट्स थीम है। हरियाणा ने सबसे ज्यादा मैडल ओलिंपिक में जीते है। उत्तराखंड की झांकी में प्रगति की औऱ बढ़ता उत्तराखंड थीम है। प्रगति की ओर बढ़ता उत्तराखंड, डेवलेपमेंट और धार्मिक साइट की कनेक्टिविटी के बारे में बताया गया है। छत्तीसगढ़ गोधन गाय योजना थीम होगी। उत्तरप्रदेश की थीम काशी विश्वनाथ पर आधारित होगी। पंजाब की ब्रिटिश रूल में फ्रीडम फाइटर थीम होगी।

26 जनवरी के दिन 12 राज्यों और 9 मिनिस्ट्री की झांकियां दिखेंगी। दिल्ली, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों की झांकी इस बार राजपथ पर नहीं दिखेंगी। कई राज्यों की झांकियों को इस बार परेड में शामिल नहीं करने पर गृह मंत्रालय की तरफ से बताया कि कि इस बार गणतंत्र दिवस में 29 राज्यों की झांकियों के लिए आवेदन प्राप्त हुए थे। सीमित समय और स्पेस की वजह से कई राज्यों की झांकियों को इस बार शामिल नहीं किया गया। समय और जगह के कारण इन 12 राज्यों को ही चुना गया है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV