Taiwan Controversy : नैंसी पेलोसी का विमान पहुंचा ताइवान, भड़का चीन. कहा- गंभीर परिणाम के लिए अमेरिका रहे तैयार

चीन ताइवान को अपना स्वशासित क्षेत्र मानता है, इसलिए वह पेलोसी की यात्रा का कड़ा विरोध कर रहा है. पेलोसी बीते 25 सालों में ताइवान पहुंचने वाली पहली शीर्ष अमेरिकी अधिकारी होंगी. पेलोसी के ताइवान दौरे से भड़के चीन ने अमेरिका को धमकी तक दे डाली है.

Desk : US स्पीकर नैंसी पेलोसी का विमान ताइवान पहुंचा है. ताइपे में US स्पीकर नैंसी पेलोसी का विमान लैंड हुआ है. पेलोसी की ताइवान यात्रा उकसाने वाला कदम माना जा रहा है. इस यात्रा को लेकर चीन की ओर कहा गया है कि अमेरिका गंभीर परिणाम के लिए तैयार रहना चाहिए. वहीं ताइवान यात्रा पर रुस ने चीन का समर्थन किया है. चीन में सिविल डिफेंस के सायरन बज रहे है.

ताइवान पहुंचने के बाद नैंसी पेलोसी का ट्वीट भी सामने आया है. नैंसी पेलोसी नें ट्वीट कर कहा है कि अमेरिका ताइवान के लोगों के साथ हैं.हम ताइवान में लोकतंत्र का समर्थन करते है, अमेरिका और ताइवान के रिश्ते मजबूत होंगे.

दरअसल अमेरिका की ताकतवर नेता नैंसी पेलोसी के ताइवान दौरे पर चीन भड़का है. अमेरिका और चीन अब ताइवान पर आमने-सामने आ गये हैं। दुनियाभर की निगाहें आज ताइवान पर हैं. यूएस स्पीकर नैंसी पेलोसी के ताइवान दौरे को लेकर पूर्वी एशिया में हालात तेजी से बदल रहे हैं. बता दें, ताइवान को चीन अपना हिस्सा मानता है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूएसए ने भी कमर कस ली है. चीन की धमकियों के बावजूद पेलोसी अधिकारियों के साथ ताइवान यात्रा पर जाएंगी। पेलोसी चार एशियाई देशों की यात्रा कर रही हैं, सबसे पहले वह सिंगापुर पहुंची हैं. आज शाम तक वे ताइपे पहुंच सकती हैं.

बता दें, चीन ताइवान को अपना स्वशासित क्षेत्र मानता है, इसलिए वह पेलोसी की यात्रा का कड़ा विरोध कर रहा है. पेलोसी बीते 25 सालों में ताइवान पहुंचने वाली पहली शीर्ष अमेरिकी अधिकारी होंगी. पेलोसी के ताइवान दौरे से भड़के चीन ने अमेरिका को धमकी तक दे डाली है. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि वह अमेरिका को फिर चेतावनी देते हैं कि यदि पेलोसी ताइवान पहुंचीं तो पीपुल्स लिबरेशन आर्मी चुपचाप नहीं बैठेगी.

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV