UKSSSC: पेपर लीक मामले में 4 आरोपियों को मिली जमानत, STF नहीं जुटा पाई पर्याप्त सबूत

कोर्ट ने पेपरलीक मामाले मे 4 आरोपियों को साक्ष्यों के आभाव के कारण जमानत दे दी है। कोर्ट का मानना है कि इन आरोपियों के खिलाफ STF पर्याप्त सबूत नहीं जुटा पाई है, जिस वजह से इनको जमानत दी गई है।

UKSSSC भर्ती घोटाले में एक के बाद एक बड़े कारनामें सामने आने के बाद कोर्ट ने चार आरोपियों का जमानत दे दी है। उत्तराखंड में पेपर लीक मामले में एक के बाद एक कई गिरफ्तारी हुई। STF ने पेपर लीक को लेकर कई खुलासे किए हैं। कोर्ट ने पेपरलीक मामाले मे 4 आरोपियों को साक्ष्यों के आभाव के कारण जमानत दे दी है। कोर्ट का मानना है कि इन आरोपियों के खिलाफ STF पर्याप्त सबूत नहीं जुटा पाई है, जिस वजह से इनको जमानत दी गई है।

उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग की भर्तियों में गड़बड़ी को लेकर पिछले दिनों कुछ युवाओं ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की थी। युवाओं की शिकायतों को बेहद गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री ने इस मामले की जांच के आदेश दिए। डीजीपी अशोक कुमार के निर्देशों ओर अगले ही दिन इस मामले में देहरादून के रायपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया। जांच के दौरान एक के बाद एक बड़े खुलासे होते चले गए। इस मामले में एसटीएफ अब तक 40 से ज्यादा गिरफ्तारियां कर चुकी है।

पेपर लीक मामले में अब 21 आरोपियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई हुई है। जिन आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है उन्हे जमानत नही मिलीं हैं। कोर्ट ने दिनेश जोशी समेत 4 आरोपियों को जमानत दे दी है। इस मामलें में कोर्ट इन आरोपियों को सबूत के अभास से जमानत दे दी है। भर्ती घोटाले के मास्टरमाइंड हाकम सिंह के सांकरी स्थित अवैध रिसोर्ट को अभी कुछ दिन पहले ही ध्वस्त करने की कार्रवाई हुई है। पहले बुलडोजर और फिर प्रशासन ने ग्रामीणों कि मदद से इस आलीशान रिसोर्ट को ध्वस्त कर दिया है।

Related Articles

Back to top button