वाराणसी मेयर ने संस्कृत में लिया शपथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने मंच पर दिलवाया संकल्प

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मुख्य अतिथि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने मेयर अशोक तिवारी को हाथों में गंगा जल लेकर संकल्प लेने की बात कही.

वाराणसी नगर निगम के मेयर पद पर अशोक तिवारी ने संस्कृत भाषा में गोपनीयता की शपथ लिया. संस्कृत भाषा में नवनिर्वाचित मेयर के शपथ लेता देख हर कोई हैरान रहा, तो शपथ के पश्चात सभी ने हर -हर महादेव का उद्घोष कर मेयर का अभिनंदन किया. इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में शपथ ग्रहण समारोह में शामिल डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अनोखी पहल कर दी. केशव प्रसाद मौर्य ने शपथ ग्रहण समारोह में अपने संबोधन के पश्चात मेयर अशोक तिवारी को मंच के सामने बुलाकर संकल्प दिलवाया.

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मुख्य अतिथि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने मेयर अशोक तिवारी को हाथों में गंगा जल लेकर संकल्प लेने की बात कही. जिस पर मंच पर आगे आकर अशोक तिवारी ने पाने हाथों में गंगा जल लेकर डिप्टी सीएम के द्वारा दिलवाई गए संकल्प को लिया. डिप्टी सीएम ने संकल्प दिलवाया कि जिस प्रकार से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सफाई कर्मियों का सम्मान करते है,वैसे ही मेयर पद पर आसीन होने के साथ वाराणसी मेयर भी सफाईकर्मियों का सम्मान करेंगे. इसके साथ ही वह प्रत्येक महीने में एक दिन सफाई कर्मियों और कार्यकर्ताओं के साथ खुद सड़क पर निकलकर स्वच्छता अभियान चलाएंगे.

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के इस संकल्प को मेयर ने दोहराया, तो पूरा रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का हाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा. शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मीडिया से बात करते हुए डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने नवनिर्वाचित मेयर और पार्षदों को बधाई दिया. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के नगर निकाय चुनाव में बीजेपी ने 17 / 0 सभी नगर निगम की सीट जीते है, लेकिन काशी के जितने का स्वाद कुछ अलग ही है, बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद का स्वाद कुछ अलग है, प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में जितने का स्वाद कुछ अलग है और वाराणसी नगर निगम के सदन में बीजेपी का बहुमत है इसका भी स्वाद अलग है.आज का दिन काशी, प्रदेश और विकास की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है.

Related Articles

Back to top button