सीएम योगी ने मेधावियों को दिया मंत्र,बोले- खुद पर रखें भरोसा, दिनचर्या में शामिल करें खेलकूद

यूपी बोर्ड के कक्षा 10वीं की परीक्षा में जनपद लखनऊ में शीर्ष स्थान प्राप्तकर्ता बच्चों, उनके अभिभावकों व प्राचार्यों से सीएम ने भेंट की और उनको साथ ही उनके अभिभावकों को शुभकामनाएं दी. बच्चों से संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्य के साथ-साथ आराम भी आवश्यक है। अगर आप नियमित रूप से पढ़ेंगे, नियमित रूप से खेलेंगे, सभी कार्यों को टाइम-टेबल बनाकर करेंगे तो फिर परीक्षा के समय अनावश्यक तनाव नहीं होगा।

Desk : यूपी बोर्ड के कक्षा 10वीं की परीक्षा में जनपद लखनऊ में शीर्ष स्थान प्राप्तकर्ता बच्चों, उनके अभिभावकों व प्राचार्यों से सीएम ने भेंट की और उनको साथ ही उनके अभिभावकों को शुभकामनाएं दी. बच्चों से संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्य के साथ-साथ आराम भी आवश्यक है। अगर आप नियमित रूप से पढ़ेंगे, नियमित रूप से खेलेंगे, सभी कार्यों को टाइम-टेबल बनाकर करेंगे तो फिर परीक्षा के समय अनावश्यक तनाव नहीं होगा।

इस संवाद में सीएम ने कहा कि संयमित दिनचर्या से आप परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं. सीएम ने बच्चों को समझाया कि दूसरों के नोट्स के भरोसे कभी तैयारी न करें। खुद अपने नोट्स तैयार करें। हालांकि दूसरों के नोट्स के भरोसे कभी तैयारी न करें। खुद अपने नोट्स तैयार करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी को समय पर सोना व जागना चाहिए। शारीरिक विकास के लिए खेल-कूद बेहद आवश्यक है,बच्चे को खेल के किसी न किसी कार्यक्रम के साथ जुड़ना चाहिए। रात्रिभर जागने से दिनभर व्यक्ति को थकान रहती है, स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

समसामयिक घटनाओं को लेकर रहें अपडेट, नियमित दिनचर्या में शामिल करें अखबार, सीएम ने समझाया कि तय स्कूली पाठ्यक्रम के अलावा आपको देश-दुनिया के समसामयिक स्थिति से अपडेट रहना चहिए। इसके लिए अखबार एक अच्छा माध्यम है। दिनचर्या में एक समय अखबार पढ़ने के जरूर रखें।सम्पादकीय पृष्ठ विचारों से परिपूर्ण होते हैं इसपर अमल करना चाहिए. अलग अलग विचारों से हमे नए विचार सोचने में मदद मिलती है. अखबार की मदद से अगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में मदद मिलेगी।सीएम योगी ने मेधावी बच्चों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के लोकप्रिय रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विद्यार्थी को प्रधानमंत्री जी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम से जुड़ना चाहिए।


मेधावियों की विभिन्न जिज्ञासाओं का समाधान करते हुए मुख्यमंत्री जी ने बताया कि राज्य सरकार बदलते परिवेश के दृष्टिगत समय-समय पर पाठ्यक्रम को अपडेट करती है। यह क्रम सतत जारी रहेगा। हमें अपने सही इतिहास की जानकारी होनी चाहिए। अपने नायकों/महापुरुषों के व्यक्तित्व/कृतित्व की जानकारी होनी चाहिए। इसलिए राज्य सरकार ने बेसिक शिक्षा में भी इन विषयों का समावेश किया है।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × 2 =

Back to top button
Live TV