CM योगी ने की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक, परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने के लिए अफसरों को दिए निर्देश

समीक्षा बैठक के दौरान सीएम योगी ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में चल रहे अटल आवासीय विद्यालय, सैनिक स्कूल, राजकीय विश्वविद्यालय और मेडीकल कॉलेज जैसी परियोजनाओं को लेकर भी अधिकारियों को विशेष निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि ये परियोजनाएं प्रदेश के बच्चों और युवाओं को एक बेहतर भविष्य देने वाली हैं.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 5 कालीदास मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास पर सोमवार को ईपीसी व्यवस्था में परिवर्तन, सुधार एवं सरलीकरण की एक उच्च स्तरीय बैठक की समीक्षा की. इस दैरान सीएम योगी ने कहा कि ईपीसी मोड में सुधार करने की आवश्यकता है. उन्होंने प्रमुख सचिव नियोजन की अध्यक्षता में एक कार्यकारी समिति गठित करने के निर्देश दिए.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान कहा कि ईपीसी मोड पर प्रदेश में अक्टूबर 2020 से अगस्त 2022 तक 45 परियोजनाएं प्रारम्भ हो चुकी हैं और 74 परियोजनाओं के डीपीआर बन गए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि 63 परियोजनाओं का ईएफसी हो चुका है और 53 पर प्रशासनिक वित्तीय स्वीकृति मिलनी है. वहीं उन्होंने परियोजनाओं की लेट लतीफी पर नाराजगी भी जाहिर की.

उन्होंने बची हुई विकास परियोजनाओं में आ रही समस्याओं का समाधान जल्द से जल्द निकाल कर तीव्र गति से कार्य को आगे बढ़ने के निर्देश दिए. उन्होंने यह भी कहा कि जनहित की विकास परियोजनाएं समय से पूरी होंगी तो जनता के पैसे की बर्बादी नहीं होगी। साथ ही सीएम ने परियोजनाओं की सतत निगरानी करने का भी निर्देश दिया.

समीक्षा बैठक के दौरान सीएम योगी ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में चल रहे अटल आवासीय विद्यालय, सैनिक स्कूल, राजकीय विश्वविद्यालय और मेडीकल कॉलेज जैसी परियोजनाओं को लेकर भी अधिकारियों को विशेष निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि ये परियोजनाएं प्रदेश के बच्चों और युवाओं को एक बेहतर भविष्य देने वाली हैं. इसलिए प्रदेश में जो भी नये विश्वविद्यालय या मेडिकल बनें उनकी वास्तुकला आकर्षक हो और उनमें भारतीय संस्कृति की झलक दिखे.

Related Articles

Back to top button