Health Tips: भागदौड़ भरी जिन्दगी और व्यस्त जीवन शैली में मच्छर और पानी से सतर्क रहने की जरुरत

आज की भागदौड़ भरी जिन्दगी और व्यस्त जीवन शैली में अपने आप को स्वस्थ्य रख पाना लोगों के लिए काफी कठिन होता जा रहा है।

आज की भागदौड़ भरी जिन्दगी और व्यस्त जीवन शैली में अपने आप को स्वस्थ्य रख पाना लोगों के लिए काफी कठिन होता जा रहा है। चाहे पीने के लिए पानी हो या सोने के लिए बिस्तर सभी जगह लोगों को हानिकारक चीजों का सामना करना पड़ रहा हैं। ऐसे में अपने आप को स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए कुछ जरुरी जीजें हैं जिसके लिए खुद सतर्क रहने की जरुरत है।

मच्छरों से बना कर रखें दूरी ये करें उपाय
मच्छरों से दुनिया भर को लोग परेशान हैं, मच्छर दुनिया के सबसे घातक कीटों में से एक हैं। मच्छर के काटने से डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और लसीका फाइलेरिया जैसे रोग बहुत तेजी से फैलते हैं और हमारे शरीर को प्रभावित करते हैं। यदि आप अपने और अपने प्रियजनों को मच्छरों से फैलने वाली बीमारियों से बचाना चाहते हैं तो इन सरल उपायों का कर सकते हैं। यदि आप ज्ञात मच्छर जनित बीमारियों वाले क्षेत्र की यात्रा कर रहे हैं, तो जापानी इंसेफेलाइटिस और पीले बुखार जैसी बीमारियों को रोकने के लिए या यदि आपको मलेरिया-रोधी दवाएं लेने की आवश्यकता है, तो वैक्सीन के लिए एक चिकित्सक से परामर्श करें। हल्के रंग की, लंबी बाजू की शर्ट और पैंट पहनें और कीट विकर्षक का प्रयोग करें। घर में, खिड़की और दरवाजे के पर्दे का उपयोग करें, मच्छरदानी का उपयोग करें और मच्छरों के प्रजनन स्थलों को नष्ट करने के लिए साप्ताहिक रूप से अपने आस-पास की सफाई करें।

पानी के उपयोग में बरते सावधानी नही तो हो सकती है परेशानी
पानी जीवन का अहम हिस्सा हैं। बिना पानी के जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती। दूषित पानी पीने से अनेक तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं। दूषित पानी पीने से हैजा, डायरिया, हेपेटाइटिस ए, टाइफाइड और पोलियो जैसी जलजनित बीमारियां हो सकती हैं। विश्व स्तर पर, कम से कम 2 बिलियन लोग मल से दूषित पेयजल स्रोत का उपयोग करते हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप जो पानी पी रहे हैं वह सुरक्षित है, अपने जल रियायतग्राही और पानी भरने वाले स्टेशन से संपर्क करें। यदि आप को यह नही पता कि जो पानी हम पी यह हैं वह सुरक्षित है या असुरक्षित तो आप अपने पानी को कम से कम एक मिनट तक उबालें। यह पानी में हानिकारक जीवों को नष्ट कर देगा। पीने से पहले इसे प्राकृतिक रूप से ठंडा होने दें।

Related Articles

Back to top button