Health Tips : इन चीजों के सेवन से बनती है गैस, जानिए, कब्ज को दूर करने के 5 घरेलू नुस्खे…

हेल्थलाइन की एक खबर बताती है कि, "ज्यादातर लोग प्रति दिन कम से कम 14 बार गैस पास करते हैं." इसमें कहा गया है कि सेब, प्रून और नाशपाती जैसे फल भी गैस का कारण बनते हैं. इसके अलावा ऐसे खाद्य पदार्थ जिन्हें खाने से आप अतिरिक्त हवा निगल जाते हों, वे भी गैस या कब्ज का कारण बन सकते हैं. उदहारण के तौर पर हार्ड कैंडी को चूसना या कार्बोनेटेड पेय लेना आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल सही नहीं है.

अनहेल्दी डाईट और अनियमित दिनचर्या हमारे स्वास्थ्य पर कई बार प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं. कई बार स्वाद के चक्कर में हम अपने स्वास्थ्य से समझौता कर बैठते हैं. स्वाद के लिए कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन करने से आप गैस जैसी समस्या का अनुभव कर सकते हैं. हालांकि, इसके मद्देनजर सभी व्यक्तियों को समान अनुभव नहीं हो सकता है.

एक पोषण विशेषज्ञ की मानें तो, “कुछ लोग केवल पाचन में सुधार करने की जरुरत को अहम मानते हैं. वो स्वाद से कोई समझौता नहीं करना चाहते और अपने डाइट में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करने की इच्छा जाहिर करते हैं, जिससे उन्हें गैस की समस्या का सामना ना करना पड़े.” कई बार ऐसा भी होता है कि जिन खाद्य पदार्थों को हम सेहत के लिए बेहतरीन डाइट समझते हैं वो भी गैस के लिए बड़े जिम्मेदार कारक होते हैं.

आइए जानते हैं वो कौन से ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिनके सेवन से आपको गैस की समस्या परेशान कर सकती हैं

तैलीय पदार्थ, बैंगन, ककड़ी, मैदा, पातगोभी, फूलगोभी, पेस्ट्री, दूध, मटर और नट्स- ये कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो गैस या कब्ज के सबसे बड़े कारक हैं. हालांकि पोषण विषेशज्ञों की माने तो इन्हें डाइट में शामिल करने पर कब्ज के मामले में हर व्यक्ति का अनुभव भिन्न होता है.

हालांकि यदि आप अपने पेट के स्वास्थ्य का ख्याल रखना शुरू कर दें, तो आप गैस बनाने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने के बाद भी गैस, पेट फूलना या अपच का कभी अनुभव नहीं करेंगे.

हेल्थलाइन की एक खबर बताती है कि, “ज्यादातर लोग प्रति दिन कम से कम 14 बार गैस पास करते हैं.” इसमें कहा गया है कि सेब, प्रून और नाशपाती जैसे फल भी गैस का कारण बनते हैं. इसके अलावा ऐसे खाद्य पदार्थ जिन्हें खाने से आप अतिरिक्त हवा निगल जाते हों, वे भी गैस या कब्ज का कारण बन सकते हैं. उदहारण के तौर पर हार्ड कैंडी को चूसना या कार्बोनेटेड पेय लेना आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल सही नहीं है.

इसके अलावा च्युइंग गम एक और उदाहरण है जहां आप अतिरिक्त हवा निगलते हैं ये कब्ज के सबसे बड़े कारण हैं. अगर आप धूम्रपान के आदि हैं तो आपको बता दें कि ये कब्ज के अलावा आपके फेंफड़ों के स्वास्थ्य के लिए भी घातक है.

बहरहाल आहार विशेषज्ञों ने कुछ ऐसे नुस्खे भी सुझाएं हैं जो कब्ज की समस्या से निजात दिलाने में बहुत कारगर साबित हो सकते हैं. ये कुछ ऐसे प्राकृतिक उपचार हैं जिन्हें आजमा कर अपने पेट की सेहत का ख्याल रख सकते हैं.

  • पुदीने की चाय: पुदीने की कुछ पत्तियों को एक गिलास पानी में उबालें और इस काढ़े का सेवन करने से गैस से राहत मिलती है.

  • हर्बल टी: 10 ग्राम जीरा और सौंफ को उबलते पानी में 20 मिनट तक भिगोकर रखें और कब्ज से तुरंत राहत के लिए इसका सेवन करें.

  • सौंफ के बीज: गैस की समस्या के लिए एक पुराना उपाय सौंफ है. अगर आपको कब्ज की वजह से बेचैनी महसूस हो रही हो तो एक चम्मच इन बीजों को चबा लें.

  • दही: दही जैसे प्रोबायोटिक्स पदार्थ पाचन में सुधार करने और पेट से अतिरिक्त गैस को दूर करने में मदद करते हैं.

  • धनिया के बीज: इन बीजों को रात भर एक गिलास पानी में भिगो दें और अगर आपको अक्सर कब्ज महसूस होता है तो इसका सेवन खाली पेट करें.

Related Articles

Back to top button
Live TV