Mirzapur 3: तीसरे सीजन में नहीं चला कालीन भैया का जादू, लोगों को खली इस किरदार की कमी!

इस बार दर्शक थोड़े नाराज दिखाई दे रहे है. सबसे जरुरी बात ये है कि तीसरे सीजन में फीमेल केरेक्टर को ज्यादा दिखाया गया है

मनोरंजन डेस्क- देश में सबसे लोकप्रिय वेब सीरीज मिर्जापुर का तीसरा सीजन अब आ गया है. ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम पर आप इसको देख सकते हैं.सीरीज को लेकर लोगों की तरफ अलग-अलग तरीके की प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है.

पर सीरीज को देखने वाले मुख्य दर्शक जो हैं उन्हें पहले और दूसरे सीजन के मुकाबले में तीसरी सीरीज थोड़ी फीकी नजर आई.इस बार दर्शक थोड़े नाराज दिखाई दे रहे है. सबसे जरुरी बात ये है कि तीसरे सीजन में फीमेल केरेक्टर को ज्यादा दिखाया गया है उनकी भूमिका पहले के मुकाबले में ज्यादा महत्वपूर्ण दिखाई गई है.

मिर्जापुर के तीसरे सीजन में लोगों को मुन्ना भैया की कमी खूब खली. कालीन भैया से बदला पूरा हो सके इसके लिए गुड्डू की मदद गोलू गुप्ता कर रही है.वो गुड्डू का दिमाग है. जो अपने गेम प्लान से सबकुछ मैनेज कर रही है. दूसरे सीजन के आखिर में बहुत सारे सवाल ऐसे ही अधूरे छुट गए थे,तीसरे सीजन में लोग को कुछ नया चाहिए था.

सीरीज को लेकर और ज्यादा जानकारी दे तो, बहुत सारे पहलुओं के हिसाब से बहुत कमजोर नजर आ रही है. वॉयलेंस और बाहुबल की कहानी को दिखाने वाली ये सीरीज अपनी चमक को कम करती हुई दिखाई दी. तीसरे सीजन में कालीन भैया का दमदार कैरेक्टर कुछ फीका सा दिखाई दिया.

वो मिर्जापुर 3 में नजर तो आते हैं लेकिन सिर्फ ना बराबर. यह वेब सीरीज सिर्फ टिकी है तो साइड कलाकारों और गुड्डू भैया की सनक पर. एक समय के बाद मिर्जापुर 3 की कहानी इतनी बोरिंग लगने लगती है कि इसको फॉरवर्ड करके आगे देखने का मन करने लगता है.

खैर अगर आपने मिर्जापुर सीरीज के बारे में बहुत सुनकर उसे देखने का मन बना लिया है तो पहले सीरीज के पिछले दो पार्ट देख लें फिर तीसरे सीरीज पर जाकर अपनी निगाहें टिकाएं और उसे देंखे.

Related Articles

Back to top button