ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों पर रणदीप गुलेरिया ने सरकार को किया अगाह, दी ये चेतानवी!

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने रविवार को कहा कि भारत को तैयारी करनी चाहिए और उम्मीद करनी चाहिए कि देश में कोविड -19 की स्थिति यूनाइटेड किंगडम की तरह खराब न हो। उनका यह बयान तब आया है जब यूके के स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) ने शनिवार को कोरोना वायरस के नए ओमिक्रॉन वेरिएंट के 10,059 मामलों की पुष्टि की है, जो शुक्रवार को आये ओमिक्रॉन वेरिएंट के 3,201 मामलों की तुलना में तीन गुना अधिक है, जिससे यूनाइटेड किंगडम में कुल मामलों की संख्या 24,968 हो गई है।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने रविवार को कहा कि भारत को तैयारी करनी चाहिए और उम्मीद करनी चाहिए कि देश में कोविड -19 की स्थिति यूनाइटेड किंगडम की तरह खराब न  हो। उनका यह बयान तब आया है जब यूके के स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) ने शनिवार को कोरोना वायरस के नए ओमिक्रॉन वेरिएंट के 10,059 मामलों की पुष्टि की है, जो शुक्रवार को आये ओमिक्रॉन वेरिएंट के 3,201 मामलों की तुलना में तीन गुना अधिक है, जिससे यूनाइटेड किंगडम में कुल मामलों की संख्या 24,968 हो गई है।

उन्होंने कहा, “हमें तैयारी करनी चाहिए और उम्मीद करनी चाहिए कि चीजें यूनाइटेड किंगडम की तरह खराब नहीं होनी चाहिए। हमें और डेटा चाहिए। जब भी दुनिया के अन्य हिस्सों में मामलों में वृद्धि होती है, तो हमें इसकी बारीकी से निगरानी करने और किसी भी घटना के लिए तैयार रहने की जरूरत है, ।

आपको बता दे कि ओमिक्रॉन वेरिएंट मामलों की संख्या भारत में अबतक 151 हो गई, 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ओमिक्रॉन मामलों का पता चला है: महाराष्ट्र (54), दिल्ली (22), राजस्थान  (17) और कर्नाटक (14), तेलंगाना (20), गुजरात (9), केरल (11), चंडीगढ़ (1), तमिलनाडु (1) और पश्चिम बंगाल (1) आंध्र प्रदेश (1)

Related Articles

Back to top button
Live TV