लखनऊ से रामेश्वरम जा रही ट्रेन में लगी आग, 10 यात्रियों की मौत कई झुलसे

तमिलनाडु के मदुरै रेलवे स्टेशन के पास लखनऊ से रामेश्वरम जाने वाली ट्रेन में आग लगने से हड़कंप मच गया। मदुरै में रेलवे अधिकारियों के मुताबिक इस घटना में 10 लोगों की मौत 20 से अधिक यात्री आग लगने से झुलस गए। जिन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया और उनका इलाज जारी है। दक्षिणी रेलवे के मुताबिक इस ट्रेन हादसे के मृतकों के परिवार को 10-10 लाख रुपए मुआवजे का एलान किया है।

तीर्थ यात्रियों को लेकर लखनऊ से रामेश्वरम जा रही ट्रेन के स्पेशल कोच में 63 यात्री सवार थे। जिनमे से कुछ लोग के पास गैस सिलेंडर था। अंदाजा लगाया जा रहा है ट्रेन के स्पेशल कोच आग इसी गैस सिलेंडर की वजह से लगी है। जिसे अवैध तरीके से ले जाया जा रहा था।

ज्वलनशील वस्तुएं और विस्फोटक ले जाना रेलवे अधिनियम के तहत दंडनीय अपराध है

गैस सिलेंडर, पटाखे, एसिड, मिट्टी का तेल, पेट्रोल, थर्मिक वेल्डिंग, स्टोव आदि जैसे ज्वलनशील सामान और विस्फोटक ले जाना रेलवे अधिनियम 1989 की धारा 67,164 और 165 के तहत दंडनीय अपराध है। रेलवे मैनुअल के पैरा 9 के अनुसार, निजी पर्यटक दलों को एक लिखित घोषणा देनी होगी कि वे अपनी यात्रा के दौरान कोई भी ज्वलनशील वस्तु नहीं ले जाएंगे। आज (26-08-2023) मदुरै यार्ड में स्थित एक प्राइवेट पार्टी टूरिस्ट कोच में हुई अग्नि दुर्घटना में प्राइवेट पार्टी ने भी इस आशय की घोषणा की थी, फिर भी, निजी पक्ष ने अवैध रूप से गैस सिलेंडर, स्टोव और अन्य ज्वलनशील वस्तुएं ले जाईं, जिसके कारण भीषण आग लग गई।

यूपी के सीतापुर से 2 यात्री की मौत

लखनऊ से रामेश्वरम जा रही ट्रेन के स्पेशल कोच में उत्तर प्रदेश के सीतापुर निवासी शत्रुदमन सिंह और मिथलेश तिवारी को भी इस हादसे में अपनी जान गवानी पड़ी।

हेल्प लाइन नम्बर जारी

मदुरै फायर इंसीडेंट को लेकर रेलवे द्वारा रेलवे और राहत आयुक्त कार्यालय से जारी किया गया हेल्पलाइन नंबर। प्राइवेट कोच में सफर कर रहे यात्रियों के परिजनों द्वारा इस हेल्पलाइन नंबरों पर घटना से जुड़ी सभी जानकारी ली जा सकती है।

कंट्रोल रूम राहत हेल्प लाइन नम्बर (उत्तर प्रदेश)
1.1070 (टोल फ्री)
2.9454441081
3.9454441075

Related Articles

Back to top button
Live TV