भारत में आखिर 14 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है बाल दिवस? यहां जानिए 14 नवंबर का इतिहास

पंडित जवाहरलाल नेहरू की जन्म जयंती पर पुरे भारत में मनाया जाने वाला बाल दिवस, पुरे विश्व में 20 नवंबर को मनाया जाता है। दरअसल भारत में भी साल 1964 से पहले बाल दिवस 20 नवंबर को ही मनाया जाता था लेकिन पंडित नेहरू की मृत्यु के बाद भारतीय संसद में एक प्रस्ताव पारित करके 14 नवंबर की तिथि को बाल दिवस के रूप में मानाने की घोषणा की गई।

भारत के पहले प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाई जाती है। भारत में बाल दिवस 14 नवंबर को मनाया जाता है जबकि विश्व बाल दिवस 20 नवंबर को पुरे विश्व में मनाई जाती है। दरअसल, ऐसा कहा जाता है कि पंडित नेहरू को बच्चों से बेहद लगाव था इसलिए 14 नवंबर के इस तारीख को बच्चों के अधिकारों, उनकी देखभाल और बेहतर शिक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए बाल दिवस के रूप में चिन्हित कर दिया गया।

जवाहरलाल नेहरू की मृत्यु से पहले, भारत में 20 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता था। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र ने 20 नवंबर के दिन को विश्व बाल दिवस के रूप में मनाये जाने की घोषणा की। तबसे भारत के अलावा पूरा विश्व 20 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाता था लेकिन पहले प्रधानमंत्री पंडित नेहरू के मृत्यु के बाद, उनकी जयंती को भारत में बाल दिवस की तारीख के रूप में चुना गया था। इसके लिए 1964 में भारतीय संसद में एक प्रस्ताव पारित किया गया था।

पहली बार विश्व बाल दिवस मानाने का प्रावधान सन 1954 में अंतरराष्ट्रीय एकजुटता, दुनिया भर में बच्चों के बीच जागरूकता और बच्चों के कल्याण में सुधार के उद्देश्य से किया गया। 20 नवंबर, 1959 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने बाल अधिकारों की घोषणा को अपनाया। यह वह तारीख भी है जब 1989 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने बाल अधिकारों पर कन्वेंशन को अपनाया था। 1990 के बाद से, विश्व बाल दिवस उस तारीख की वर्षगांठ को भी चिह्नित करता है जब संयुक्त राष्ट्र महासभा ने बच्चों के अधिकारों पर घोषणा और कन्वेंशन दोनों को अपनाया था।

यह भी देखें- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाल दिवस के उपलक्ष्य पर सोशल मीडिया साइट कू पर प्रदेश के लोगों को बधाई और शुभकामना देते हुए लिखा है, ”देश के उज्ज्वल भविष्य और उन्नति के कर्णधार सभी बच्चों व प्रदेशवासियों को ’बाल दिवस’ की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं। प्रत्येक बच्चे का उन्नयन @UPGovt की शीर्ष प्राथमिकता है। आइए, आज हम सभी बच्चों के सर्वांगीण विकास में सहभागी बनने का प्रण लेकर ’बाल दिवस’ को सार्थकता प्रदान करें।”

वहीं यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने भी बाल दिवस के अवसर पर शुभकामना और बधाई देते हुए सोशल मीडिया साइट कू पर लिखा, ”बाल दिवस के अवसर पर सभी बच्चों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। आइए, हम सब मिलकर बच्चों को अच्छे संस्कार, स्वास्थ्य एवं शिक्षा के समुचित अवसर प्रदान करने वाले समाज का निर्माण करें।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − eleven =

Back to top button
Live TV