शहरी गैस वितरण क्षेत्र में अडानी समूह की प्राकृतिक गैस वितरण कंपनी ATGL निवेश करेगी 2000 करोड़ रुपये

इन महत्वाकांक्षाओं को प्राप्त करने के लिए, ATGL 2,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इसके अतिरिक्त इन 44 अतिरिक्त भौगोलिक क्षेत्रों में, क्लीन एनर्जी के क्षेत्र में ATGL की कुल प्रतिबद्धता को 20,000 करोड़ रुपये तक ले जाना भी शामिल है।

अडानी टोटल गैस लिमिटेड (ATGL), भारत की सबसे बड़ी निजी CGD कंपनी और अडानी समूह व टोटल एनर्जी के बीच एक संयुक्त उद्यम ने, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (PNGRB) द्वारा हाल ही में आयोजित एक सिटी गैस वितरण (CGD) बोली के 7वें राउंड में अपने सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (CGD) नेटवर्क को 4 नए भौगोलिक क्षेत्रों तक बढ़ाने का लाइसेंस प्राप्त किया है।

इसके साथ ही ATGLअब सबसे बड़ी सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी बन गयी है, जो 52 भौगोलिक क्षेत्रों में सेवारत है, जिनमें से 9 का संचालन इसके रणनीतिक जेवी पार्टनर इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ किया जाता है। स्वच्छ उर्जा के क्षेत्र में उत्पादों और सेवाओं की बढ़ती जिम्मेदारियों के साथ, ATGL 9 मिलियन से अधिक घरों में जरुरी घरेलु कामों को करने के लिए सुविधाजनक और पर्यावरण के अनुकूल प्राकृतिक गैस प्रदान कर रहा है, साथ ही लगभग 2,000 CNG स्टेशन स्थापित करके वाहनों के लिए इकोनॉमिक ट्रांसपोर्ट फ्यूल तथा इंडस्ट्रियल व कॉमर्शियल उपभोक्‍ताओं को क्लीन फ्यूल उपलब्ध कराने के लिए समर्पित है।

इन महत्वाकांक्षाओं को प्राप्त करने के लिए, ATGL 2,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इसके अतिरिक्त इन 44 अतिरिक्त भौगोलिक क्षेत्रों में, क्लीन एनर्जी के क्षेत्र में ATGL की कुल प्रतिबद्धता को 20,000 करोड़ रुपये तक ले जाना भी शामिल है। अडानी टोटल गैस लिमिटेड, औद्योगिक, वाणिज्यिक, घरेलू (आवासीय) ग्राहकों को पाइप्ड नेचुरल गैस (PNG) और परिवहन क्षेत्र को कंप्रेस्ड नेचुरल गैस (CNG) की आपूर्ति करने के लिए सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (CGD) नेटवर्क विकसित करने के मामले में भारत की सबसे बड़ी निजी कंपनी है।

44 नए भौगोलिक क्षेत्रों के प्राधिकरण से पहले अपने गैस वितरण सेवाओं के अंतर्गत, ATGL 38 भौगोलिक क्षेत्रों को पूरा कर रहा है, जो भारत की आबादी का 8% है। ATGL , एनर्जी मिक्स में नेचुरल गैस की हिस्सेदारी बढ़ाने के देश के प्रयासों में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इन 38 भौगोलिक क्षेत्रों में से 9 का प्रबंधन ATGL द्वारा किया जाता है और बाकी का प्रबंधन इंडियन ऑयल-अडानी गैस प्राइवेट लिमिटेड (IOAGPL) द्वारा किया जाता है – अडानी टोटल गैस लिमिटेड और इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के बीच 50:50 का संयुक्त उद्यम है।

Related Articles

Back to top button
Live TV