यूपी में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल समाप्त, सरकार ने कोर्ट में दिया जवाब

बिजली हड़ताल के मामले पर कोर्ट ने सुनवाई की और बिजली व्यवस्था तत्काल सुचारू किए जाने के अफसरों को निर्देश दिए. कोर्ट ने सरकार से कहा, बिजली सप्लाई तुरंत बहाल कराई जाए .चीफ जस्टिस राजेश बिंदल और जस्टिस जेजे मुनीर की डिवीजन बेंच में सुनवाई हुई.

डिजिटल डेस्क: यूपी में करीब 72 घंटो से चल रही बीजली कर्मियों की हड़ताल खत्म हो गई है. बिजली कर्मियों के हड़ताल के कारण प्रदेश के कई हिस्सों में बिजली आपूर्ति ठप थी जिस कारण आम लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था. प्रदेश में बिजली कर्मचारियों के हड़ताल के खत्म होने के कारण फिर से प्रदेश में बिजली आपूर्ति बहाल हुई है. कर्मचारियों के हड़ताल के खत्म होने की जानकारी खुद बिजली मंत्री ने हाई कोर्ट में दी. दरअसल इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस मामले का खुद संज्ञान लिया था और सरकार के वकील को कोर्ट ने जवाब देने के लिए बुलाया था. आज कोर्ट में जवाब देने से पहले बिजली मंत्री ने हड़ताली कर्चारियो के संगठन प्रमुखों से बात की और न्यायालय में जवाब दायर किया गया.

बिजली हड़ताल के मामले पर कोर्ट ने सुनवाई की और बिजली व्यवस्था तत्काल सुचारू किए जाने के अफसरों को निर्देश दिए. कोर्ट ने सरकार से कहा, बिजली सप्लाई तुरंत बहाल कराई जाए .चीफ जस्टिस राजेश बिंदल और जस्टिस जेजे मुनीर की डिवीजन बेंच में सुनवाई हुई. अब इस मामले में कोर्ट 6 दिसंबर को सुनवाई करेगा. यूपी सरकार की तरफ से ऊर्जा विभाग के सचिव कोर्ट में पेश हुए. उन्होंने कोर्ट को बताया कि ऊर्जा मंत्री ने आज हड़ताली कर्मचारियों के संगठन से बातचीत की थी बातचीत सकारात्मक रही थी. इस बातचीत में ही बिजली कर्मचारियों ने अपनी हड़ताल खत्म होने का ऐलान किया है.

आपको बता दें कि बिजली कर्मचारी अपनी कुछ मांगो को लेकर पिछले 72 घंटों से अधिक समय से हड़ताल पर थे जिस कारण प्रदेश के कई क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति ठप हो गई थी. लोगों को काफी फजीहत का सामना करना पड़ा रहा था. बिजली आपूर्ति बाधित होने से पेय जल का भी संकट लोगो को झेलना पड़ा था. अब बिजली कर्मचारियों की हड़ता समाप्त होने के बाद से प्रदेश नें बिजली आपूर्ति सुचारु रुप से शुरु हो पाई.

Related Articles

Back to top button
Live TV