भारत ने पूरा किया अपना वादा, नेपाल में भूकंप से क्षतिग्रस्त हुए मकानों का कराया पुनर्निर्माण

भारतीय दूतावास की ओर से सोमवार को इस बात की जानकारी दी गई कि भारत ने नेपाल में आए 2015 के भूकंप के दौरान क्षतिग्रस्त हुए 50,000 मकानों का पुनर्निर्माण कराया है। भारत सरकार ने इस कार्य के लिए मार्च 2018 में यूएनडीपी और यूएनओपीएस को भी शामिल किया था।

भारतीय दूतावास की ओर से सोमवार को इस बात की जानकारी दी गई कि भारत ने नेपाल में आए 2015 के भूकंप के दौरान क्षतिग्रस्त हुए 50,000 मकानों का पुनर्निर्माण कराया है। भारत सरकार ने इस कार्य के लिए मार्च 2018 में यूएनडीपी और यूएनओपीएस को भी शामिल किया था।

नेपाल में आये इस भूकंप के बाद भारत सरकार ने क्षतिग्रस्त हुए मकानों का पुनर्निर्माण करने के लिए 1100 करोड़ रुपये से अधिक देने की बात कही थी। जिसके बाद भारत सरकार ने 10 करोड़ डालर ग्रांट के रूप में और पांच करोड़ डालर फोर्थ लाइन आफ क्रेडिट के तहत दिया था।

आपको बता दे कि  2015 में नेपाल में आये इस भूकंप मे हजारों लोगों की जानें चली गई थीं। इसके साथ ही इस भूकंप ने नेपाल की जड़ों को हिला कर रख दिया था । कई महत्वपूर्ण इमारतें भूकंप में जमींदोज हो गईं थीं। इस भूकंप ने आर्थिक दृष्टि से भी नेपाल की कमर तोड़ कर रख दी थी, जिससे नेपाल आज तक भी उबर नहीं पाया है।

Related Articles

Back to top button
Live TV