दिल्ली में डेंगू के मामले पर दिल्ली HC ने कहा प्रशासन को लकवा मार गया है..

रिपोर्ट-अवैस उस्मानी

कोरोण संक्रमण के खतरे के बीच दिल्ली में डेंगू के बढ़ते मामलों पर दिल्ली हाई कोर्ट सख्त हुआ। दिल्ली में बढ़ते डेंगू के मामले पर आज दिल्ली हाई कोर्ट ने प्रशासन को जमकर फटकार लगाई। दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा प्रशासन को पूरी तरह से लकवा मार गया है। दिल्ली हाई कोर्ट ने मामले में वकील रजत अनेजा को एमिकस क्यूरी नियुक्त किया।

दिल्ली HC ने कहा कि शहर में बड़े पैमाने पर मच्छरों के प्रजनन के खतरे का मुद्दा है जिसके परिणामस्वरूप हर साल मलेरिया, चिकनगुनिया और डेंगू जैसी बीमारी होती है। दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा कि कोर्ट दिल्ली में बढ़ते मच्छरों के प्रजनन पर निगरानी करेगा। दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा प्रशसक प्रशासन नहीं चला पा रहे है, नीतियां केवल लोकलुभावन तरीके से बनाई जा रही हैं।

दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा डेंगू के बढ़ते मामलों पर कोई परेशान नहीं है, कोई जवाबदेही नहीं है, अगर ऐसा होता है तो ऐसा होता है डेंगू आयेगा और जायेगा, लोग मरेंगे, हमारे पास इतनी बड़ी संख्या में आबादी है, किसी को कोई फरक नहीं पड़ता है। दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा अगर चुनाव असली मुद्दों पर लड़ा जाए तो हमारा शहर पूरी तरह बदल जाएगा, लेकिन चुनाव इन पर लड़ा जा रहा है क्या मुफ्त है।

दिल्ली में 2016 के बाद इस साल सबसे ज़्यादा 15 मौत डेंगू से हो चुकी है। सोमवार को दिल्ली में डेंगू के 6 नए केस सामने आए, इस साल अब तक दिल्ली में डेंगू के 8975 मामले सामने आ चुके है।

Related Articles

Back to top button
Live TV