ग़ैर मान्यताप्राप्त मदरसों का सर्वे कराने के लिए टीम गठित, 15 अक्टूबर तक सर्वे कार्य पूरा करने के निर्देश

ग़ैर मान्यताप्राप्त मदरसों को लेकर सरकार सख्त है. कुछ दिन पहले ही सरकार नें मदरसों में काम करनें वालों को लेकर कई नियम बदले थे. मदरसों में काम करने वालों को लेकर 4 महत्वपूर्ण फैसलों पर मुहर लगी थी. मदरसो की हालत सुधरने को लेकर सरकार कई कदम उठा रही है. इसी कड़ी में ग़ैर मान्यताप्राप्त मदरसों का सर्व 15 अक्टूबर तक पूरा करने का निर्देश दिया गया है.

Desk: ग़ैर मान्यताप्राप्त मदरसों को लेकर सरकार सख्त है. कुछ दिन पहले ही सरकार नें मदरसों में काम करनें वालों को लेकर कई नियम बदले थे. मदरसों में काम करने वालों को लेकर 4 महत्वपूर्ण फैसलों पर मुहर लगी थी. मदरसो की हालत सुधरने को लेकर सरकार कई कदम उठा रही है. इसी कड़ी में ग़ैर मान्यताप्राप्त मदरसों का सर्व 15 अक्टूबर तक पूरा करने का निर्देश दिया गया है.

मदरसों को लेकर राजधानी लखनऊ में जल्द ही बड़ी बैठक होनी है. जिसमें इससे संबंधित कई और फैसलों पर मुहर लग सकती है. प्रदेश में मदरसों के सर्वे के लिए 10 सितम्बर तक टीम गठित करने के निर्देश दिए जा चुके हैं. निर्देश में कहा गया है कि 15 अक्टूबर तक सर्वे के कार्य को पूरा करने के निर्देश दिए जा चुके हैं.

निर्देश में कहा गया है कि रिपोर्ट 25 अक्तूबर तक शासन को उपलब्ध कराना है. दरअसल ग़ैर मान्यताप्राप्त मदरसों का सर्वे कराने के लिए टीम गठित की गई है. सितंबर तक सर्वे टीम गठित करने के निर्देश दिए गए हैं. टीम में SDM,BSA,अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी शामिल रहेंगे. सभी टीमें जिलाधिकारी के निर्देशन में काम करेंगी.

आपको बता दें कि प्रदेश में मदरसों के होने वाले सर्वे को लेकर राजनीति भी गरम है. कई राजनीतिक दलों का कहना है कि इसकी कोई जरुरत नहीं है. सरकार जबरदस्ती एक विशेष समुदाय को परेशान करनें में लगी है.

Related Articles

Back to top button