हल्के लक्षण के मरीज़ो के लिए केंद्र सरकार ने होम आइसोलेशन की नई गाइडलाइन जारी की

केंद्र सरकार ने आज कोरोना के हल्के और बिना लक्षण वाले कोरोना मरीज़ो के लिए रिवाइज़ गाइडलाइन जारी किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि पिछले दो सालों में देश और दुनिया में कोरोना के अधिकतर मामले बिना लक्षण और हल्के लक्षण वाले आये है। ऐसे मामलों में आमतौर पर सही मेडिकल गाइडेंस और मोनिटरिंग के तहत घर में ही ठीक हो जाते हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नई गाइडलाइन में कहा कि कोरोना के हल्के/बिना लक्षण वाले मरीज़ों को 7 दिन का होम आइसोलेशन होगा। कोरोना टेस्ट में पॉज़िटिव आने के 7 दिन के बाद और लगातार 3 दिन तक बुखार नहीं आने के बाद होम आइसोलेशन खत्म हो जाएगा और मरीज़ को डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। होम आइसोलेशन पीरियड खत्म होने के बाद मरीज को दोबारा टेस्ट कराने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार समय समय पर होम आइसोलेशन के लिए गाइडलाइंस अपडेट करती रहती है मरीजों और तीमारदारों को पता रहे है कि उन्हें क्या-क्या सावधानियां बरतनी हैं।

देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं आज देश में कोरोण के एक्टिव मरीज़ों की संख्या 2 लाख के पार पहुंच गई। देश में आज कोरोना वायरस के 58,097 नए केस आये। बीते 24 घंटे में कोरोना से 15,389 ठीक हुए, 534 मौत हुई। देश में कोरोना के कुल एक्टिव मरीज़ों की संख्या 2,14,004 हुई। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली में कोरोना की पांचवी लहर की शुरुआत की घोषणा कर दी। साथ ही कहा कि दिल्ली में आज कोरोना के 10 हज़ार नए केस आ सकते है साथ ही दिल्ली की कोरोना संक्रमण दर 10 प्प्रतिशत के पार पहुंचे की संभावना है। दिल्ली सरकार ने कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए प्राइवेट अस्पतालों से अपने यहां 40 प्रतिशत बेड कोरोना मरीज़ों के लिए रिज़र्व रखने का निर्देश भी दिया।

Related Articles

Back to top button
Live TV