UP : जीवनदायिनी बनी 102/108 एम्बुलेंस सेवा, महिला की हालत बिगड़ने पर कर्मचारियों ने रास्ते में कराया सुरक्षित प्रसव

प्रसूता को अस्पताल ले जाते समय बीच रास्ते में हीं महिला की हालत बिगड़ने लगी। प्रसव पीड़ा को बढ़ता देख 108 एम्बुलेंस के EMT भगवान दास ने रास्ते में ही एम्बुलेंस को रोक कर महिला का सुरक्षित प्रसव कराया।

जीवनदायिनी 102/108 एम्बुलेंस सेवा एक बार फिर जच्चा-बच्चा की जीवन रक्षा करने में सफल रही। नवाबगंज ब्लॉक के इनायतपुर गांव निवासी लक्ष्मी देवी प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी। महिला के पति विनोद कुमार ने 108 पर कॉल किया, जैसे ही सुचना मिली 108 एम्बुलेंस के पायलट विकेश और EMT भगवान दास बिना समय गवाये 15 मिनट के अंदर उनके घर पहुंचे।

प्रसूता को अस्पताल ले जाते समय बीच रास्ते में हीं महिला की हालत बिगड़ने लगी। प्रसव पीड़ा को बढ़ता देख 108 एम्बुलेंस के EMT भगवान दास ने रास्ते में ही एम्बुलेंस को रोक कर महिला का सुरक्षित प्रसव कराया। इस सम्बन्ध में जिला प्रभारी महादेव सोनकर ने बताया कि 108/102 एम्बुलेंस इमरजेंसी सेवा है और जैसे ही कॉल सेंटर से एम्बुलेंस को सुचना दी गयी वह बिना समय गवाए पेशेंट के पास पहुंच गए।

जिला प्रमुख सुमित कुमार ने जानकारी देते हुए कहा कि एम्बुलेंस पर तैनात EMT किसी भी इमरजेंसी मेडिकल परिस्थिति से निपटने के लिए प्रशिक्षित होते हैं। अस्पताल में चिकित्सकों द्वारा प्रसूता की जांच करने पर पता चला कि जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं और फिर उन्हें CHC नवाबगंज में भर्ती करवाया गया है। बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब 102/108 एम्बुलेंस सेवा ने सराहनीय काम किया है, एम्बुलेंस सेवा 102/108 आए दिन इस तरह के उदहारण प्रस्तुत करते रहते हैं।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV