UP Election 2022 : 29 अक्टूबर को अमित शाह आ रहे हैं लखनऊ, क्या चुनाव में कटेंगे कुछ मौजूदा विधायकों के टिकट?

सूत्रों की मानें तो अमित शाह ने ये संकेत पहले ही दे दिए हैं कि पुराने फॉर्मूले के मुताबिक ही इस बार भी विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन करने वाले विधायकों को चुनावी मैदान में नहीं उतारा जाएगा। पार्टी के आंतरिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के आधार पर इस बार 312 में से 100 से भी अधिक मौजूदा विधायकों का टिकट काटा जा सकता है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की रणनीतियों और तैयारियों का जायजा लेने के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 29 अक्टूबर को लखनऊ पहुंच रहे हैं। गृहमंत्री के यूपी दौरे में उनकी पार्टी के तमाम नेताओं के साथ कई बैठकें भी तय हैं। केंद्रीय गृहमंत्री का यह लखनऊ दौरा विधानसभा चुनावों के दृष्टिकोण से बेहद अहम मन जा रहा है।

दरअसल,भाजपा का लखनऊ से ‘मेगा सदस्यता अभियान’ शुरू होने वाला है। इस दौरान पार्टी ने राज्य में 1.5 करोड़ से अधिक नए सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा है। इस समय पुरे यूपी में भाजपा के कुल 2.3 करोड़ कार्यकर्ता हैं। सूत्रों का कहना है कि पार्टी सदस्यता अभियान में प्रत्येक विधानसभा में अलग-अलग जगहों पर विशेष शिविर लगाकर और अधिक लोगों को पार्टी से जोड़ेगी। मेगा सदस्यता अभियान के लिहाजा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पहले ही सभी सांसदों, विधायकों और पार्टी पदाधिकारियों को क्षेत्रवार बैठकों में सदस्यता अभियान को आगे बढ़ाने के निर्देश दे दिए थे।

सूत्रों की मानें तो विधायकों की कार्यप्रणाली का फीडबैक और संगठन से उनके तालमेल के आधार पर एक सूची तैयार की जा रही है। जिन विधायकों का इस सूची में नाम रहेगा, उनका आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट कटना लगभग तय है। सूत्रों के अनुसार पार्टी के आंतरिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के आधार पर इस बार 312 में से 100 से भी अधिक मौजूदा विधायकों का टिकट काटा जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक अमित शाह ने ये संकेत पहले ही दे दिए हैं कि पुराने फॉर्मूले के मुताबिक ही इस बार भी विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन करने वाले विधायकों को चुनावी मैदान में नहीं उतारा जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + twenty =

Back to top button
Live TV