UP: योगी सरकार नें दी बड़ी सौगात, लखनऊ और कानपुर के बीच दौड़ेंगी 42 इलेक्ट्रिक बसें

आज अपनें आवास से सीएम योगी नें अपनें आवास से गुरुवार को लखनऊ और कानपुर के लिए 42 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई. इस उपहार को जनाता को समर्पित करते हुए उन्होनें कहा कि ये इलेक्ट्रिक बसें इन दोनों शहरों की मेट्रो सेवा का आधार बनेंगी.

Desk: आज अपनें आवास से सीएम योगी नें अपनें आवास से गुरुवार को लखनऊ और कानपुर के लिए 42 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई. इस उपहार को जनाता को समर्पित करते हुए उन्होनें कहा कि ये इलेक्ट्रिक बसें इन दोनों शहरों की मेट्रो सेवा का आधार बनेंगी. सीएम योगी ने नैमिषारण्य के महात्म्य जिक्र करते हुए कहा कि जल्द ही हम लखनऊ से नैमिष के लिए हेलीकॉप्टर की सेवा भी शुरू करंगे.

सीएम नें कहा कि आज के समय में नगरीय क्षेत्रों में ध्वनि और वायु प्रदूषण से मुक्त परिवहन सेवा, समय की मांग है. धानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश में तेजी के साथ हमें पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा उपलब्ध कराने में सफलता प्राप्त हुई है.उन्होंने कहा कि विगत पांच वर्ष में प्रदेश के अंदर मेट्रो के संचालन में भी हमें सफलता प्राप्त हुई है. आज देश में सर्वाधिक मेट्रो का संचालन कोई राज्य कर रहा है तो वह उत्तर प्रदेश है. जिसके पांच शहरों में मेट्रो चल रही है और आगरा में कार्य तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। ये इलेक्ट्रिक बसें इन दोनों शहरों की मेट्रो सेवा का आधार बनेंगी.

कोविड प्रबंधन में आईटीएमएस से मिली मदद

सीएम योगी ने कहा कि पिछले पांच वर्ष के अंदर नगर विकास विभाग ने नगरीय सुविधाओं को पूरे प्रदेश के अंदर बेहतरीन तरीके से आगे बढ़ाया है. देश के अंदर जिन सौ शहरों को स्मार्ट सिटी के तौर पर विकसित किया जा रहा है उनमें से 10 उत्तर प्रदेश में हैं.स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत प्रदेश के जिन दो शहरों में सबसे अच्छा कार्य हुआ है उनमें वाराणसी और आगरा है, ये दोनों शहर स्मार्ट सिटी मिशन के टॉप 10 की सूची में भी शामिल हैं. उन्होंने कहा कि राज्य स्मार्ट सिटी मिशन के तहत हम प्रदेश के सात नगर निगम को विकसित कर रहे हैं. इसके अंतर्गत इन नगर निगमों में बनाए गए इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) के माध्यम से कोरोना काल खंड में नगरीय क्षेत्र में ही नहीं बल्कि पूरे जनपद में कोविड प्रबंधन में हमें काफी मदद मिली.उसी के मॉडल को हमने प्रदेश के सभी 75 जनपदों में लागू करते हुए देश में कोविड प्रबंधन का एक बेहतरीन मॉडल प्रस्तुत किया.

Related Articles

Back to top button