Uttarakhand : बरसात ने मचाया कहर, बारिश के चलते बहा पुल गांवो का टूटा सम्पर्क…

मानसून ने अभी पूरी तरह से दस्तक भी नहीं दी है लेकिन बरसात ने कहर बरसाना शुरू कर दिया है। भारी बारिश ने चाकीसैण तहसील के अंतर्गत सुनारगांव समेत तीन गांवों को जोड़ने वाला पैदल पुल बह गया। जिसे इन तीन गांवों के करीब 80 परिवारों को कच्चे पैदल पुल से आवाजाही करनी पड़ रही है।

जिले के दूरस्थ क्षेत्र थलीसैंण ब्लाक के चाकीसैंण तहसील के अन्तर्गत हुई पांच घंटे की मूसलाधार बारिश से पश्चिमी नयार नदी उफान पर आ गई। जिससे तीन गांवों की आवाजाही का आधार सुनारगांव पैदल पुल पूरी तरह टूट गया है। तहसील प्रशासन की टीम प्रभावित क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण कर नुकसान का आंकलन कर रही है।

क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता भरत स‌िंह पंवार ने बताया कि महाविद्यालय मजरा महादेव के समीप पश्चिमी नयार नदी पर एक पैदल पुल वर्ष 2014 में बनाया गया था। इस पुल से क्षेत्र के सुनारगांव, कृषाल व कठूड़ के ग्रामीण आवाजाही करते थे। लेकिन रात को पांच घंटे हुई मूसलाधार बारिश से पश्चिमी नयार नदी उफान पर आ गई और उसके तेज बहाव में पुल पूरी तरह टूट गया है। उन्होंने बताया कि पुल के टूटने से तीनों गांवों के करीब 80 से अधिक परिवार प्रभावित हो गए हैं। यही नहीं कई गांवों में भूमि कटाव से खेती को भी नुकसान पहुंचा है।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV