सशस्त्र बलों में बढ़ेगी महिलाओं की हिस्सेदारी, खोले जायेंगे 100 से अधिक नए सैनिक स्कूल

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को घोषणा की कि लड़कियों को सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्रीय सुरक्षा में योगदान करने का अवसर प्रदान करने के लिए देश में 100 नए सैनिक स्कूल स्थापित किए जाएंगे। सैनिक स्कूलों पर एक वेबिनार की अध्यक्षता करते हुए, राजनाथ सिंह ने कहा, "100 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना से लड़कियों को सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्रीय सुरक्षा में योगदान करने का अवसर मिलेगा।"

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को घोषणा की कि लड़कियों को सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्रीय सुरक्षा में योगदान करने का अवसर प्रदान करने के लिए देश में 100 नए सैनिक स्कूल स्थापित किए जाएंगे।  सैनिक स्कूलों पर एक वेबिनार की अध्यक्षता करते हुए, राजनाथ सिंह ने कहा, “100 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना से लड़कियों को सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्रीय सुरक्षा में योगदान करने का अवसर मिलेगा।” 

उन्होंने आगे कहा कि सरकार सशस्त्र बलों में महिलाओं की भूमिका को बढ़ाने में विश्वास रखती है और उस दिशा में कई कदम उठाए गए हैं, जिसमें सैनिक स्कूलों में लड़कियों के प्रवेश का रास्ता साफ करना और महिला अधिकारियों को स्थायी कमीशन प्रदान करना शामिल है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि नए सैनिक स्कूल स्थापित करने का निर्णय लड़कियों को देश की सेवा करने के अपने सपनों को साकार करने के लिए प्रोत्साहित करेगा।

रक्षा मंत्री ने सैनिक स्कूलों के विस्तार की घोषणा को पिछले छह-सात वर्षों में बच्चों की बुनियादी शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार और देश के समग्र विकास को सुनिश्चित करने के लिए सरकार द्वारा लिए गए कई महत्वपूर्ण फैसलों में से एक बताया।  उन्होंने आशा व्यक्त की कि आने वाले समय में रक्षा और शिक्षण सैनिक स्कूलों का समामेलन राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने आगे कहा, ‘जहां सैनिक  एकता  अनुशासन और भक्ति का प्रतीक है, वहीं ‘स्कूल’ शिक्षा का केंद्र है, इसलिए सैनिक स्कूल बच्चों को सक्षम नागरिक बनाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV