कानपुर में जीका के बढ़ते मामलों ने बढ़ाई प्रशासन की चिंता, 25 और लोगों के संक्रमित होने की हुई पुष्टि

शहर में जीका के कुल मामलों की संख्या 36 हो गई है। जिलाधिकारी ने कहा है कि छावनी क्षेत्र के आसपास के इलाकों से लोगों का वायरस परीक्षण किया जा रहा है। पहले दौर में 45,000 से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग के बावजूद अभी तक वायरस के स्रोत का पता नहीं चला सका है। दूसरे दौर की स्क्रीनिंग गुरुवार से शुरू होगी।

कानपुर में जीका वायरस से 25 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। अब शहर में जीका के कुल मामलों की संख्या 36 हो गई है। कानपुर में जीका संक्रमण के बढ़ते मामलों ने प्रशासन की चिंता को बढ़ा दिया है। दरअसल, कानपूर के चकेरी कैंट के आसपास जीका वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या काफी बढ़ गयी है।

ऐसा माना जा रहा है कि यह वायरस चकेरी कैंट के आसपास 3 किमी के दायरे में बड़े स्तर पर फैल गया है। जीका के बढ़ते मामलों के बीच जिलाधिकारी विशाख जी अय्यर संक्रमण से प्रभावित लोगों के घर गए थे। इस वायरस से वायुसेना के जवानों समेत संक्रमित कुल 25 लोगों को आइसोलेट कर दिया गया है। नगर निगम के लगभग 150 कर्मचारी उन क्षेत्रों में नियमित रूप से सफाई अभियान चला रहे हैं जहां संक्रमण की सूचना मिली है।

कानपुर के इलाके लाल कुर्ती, काकोरी, लाल बंगला, काजी खेड़ा, ओम पुरवा और हरजिंदर नगर से जीका वायरस संक्रमण के अधिक मामले सामने आये हैं। जिलाधिकारी अय्यर के अनुसार कानपुर जिले में अब तक 45,000 लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। अय्यर ने गुरुवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में स्थिति पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई है। इस बैठक में स्वास्थ्य विधायक के अधिकारी समेत नगर निगम के आला अफसर मौजूद रहेंगे।

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV