थाने में फूट- फूट कर रोया BSP नेता, टिकट का प्रलोभन देकर लाखों रुपए ठगने का लगाया आरोप, वीडियो हुआ वायरल…

उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर जनपद में एक बसपा नेता का थाने में रोने का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमे ये बसपा नेता बसपा के बड़े नेताओ पर टिकट देने के प्रलोभन का लालच देकर लगभग 67 लाख रूपये ठगने का आरोप लगा रहा है।

उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर जनपद में एक बसपा नेता का थाने में रोने का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमे ये बसपा नेता बसपा के बड़े नेताओ पर टिकट देने के प्रलोभन का लालच देकर लगभग 67 लाख रूपये ठगने का आरोप लगा रहा है। जानकारी के मुताबिक मामला मुजफ्फरनगर जनपद की नगर कोतवाली का है जहां गांव दधेडू निवासी एक बसपा का कार्यकर्ता और बसपा से ही चरथावल विधानसभा क्षेत्र प्रभारी अरशद राणा गुरुवार की देर शाम नगर कोतवाली में पहुंचा जहां वह कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आनंद देव मिश्र को एक तहरीर देते हुए फूट-फूट कर रोने लगा।

अरशद राणा का आरोप है कि 18 दिसंबर 2018 को जिला कार्यालय बसपा मुजफ्फरनगर पर जनपद के विधानसभा सीटों पर प्रभारी नियुक्त होने थे, इससे एक-दो दिन पूर्व ही बसपा के पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी शमशुद्दीन राईन ने उससे कहा कि तुम्हे चरथावल विधानसभा सीट पर प्रत्याशी नियुक्त करेंगे इसके लिए तुम्हे कुछ रूपये देने होंगे, जिसके लिए वह तैयार हो गया था।

अरशद राणा का आरोप है,कि उक्त तिथि को उसे पार्टी कार्यालय पर सहारनपुर मंडल के मुख्य काॅर्डिनेटर नरेश गौतम व पूर्व मंत्री प्रेमचंद गौतम व सत्यप्रकाश काॅर्डिनेटर एवं तत्कालीन जिलाध्यक्ष मुजफ्फरनगर सतपाल कटारिया आदि की मौजूदगी में बसपा पार्टी के मंच पर वर्ष 2022 का विधानसभा चुनाव लडाने के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिया गया था और पूरा-पूरा आश्वासन दिया गया था, कि आप क्षेत्र में जाकर अपना कार्य करो और उसे विधानसभा क्षेत्र का प्रत्याशी नियुक्त करने के लिए उससे 4 लाख 50 हजार रूपये फिर 50 हजार रूपये और फिर 15 – 15 लाख रूपये 3 किस्तो में लिये गए थे।

इसके बाद भी थोडे-थोडे करके 17 लाख रूपये उससे पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी शमशुद्दीन राईन ने सतपाल कटारिया पूर्व जिलाध्यक्ष मुजफ्फरनगर व नरेश गौतम, सहजाद पुत्र महेजर निवासी देवबंद जिला सहारनपुर व जहांगीर पुत्र महेजर निवासी सरवट जनपद मुजफ्फरनगर की मौजूदगी में लिये गये और उसे पूरा-पूरा विश्वास दिलाया कि तुम्हे ही चरथावल विधानसभा सीट पर प्रत्याशी नियुक्त किया गया है।

अरशद राणा ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी शमशुद्दीन राईन एवं बसपा के उक्त पदाधिकारियों को कहा कि मेरा टिकट कटता है तो उस स्थिति में मेरे रूपयों का क्या होगा,तो शमशुद्दीन राईन ने कहा कि ऐसा नहीं होगा अगर ऐसा हुआ तो आपका पैसा वापस कर दिया जायेगा, जब तक आपका टिकट नहीं हो जाता तब तक यह पैसा हमारे पास अमानत के तौर पर है।

अब चुनाव की तारीख घोषित होने पर उसने बसपा जिलाध्यक्ष सतीश कुमार से चरथावल विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडने हेतु पार्टी से टिकट मांगा तो उसने कहा कि तुम्हे ओर 50 लाख रूपये की व्यवस्था करनी पड़ेगी जिसकी उसने देने की हां भर दी थी, इसी तरह बसपा के नेताओं ने टिकट के नाम पर उससे 67 लांख रुपये हड़प लिए और उसके बावजूद भी बसपा की ओर से चरथावल विधानसभा पर सलमान सईद को प्रत्याशी घोषित कर दिया गया।

अरशद राणा ने कहा कि अब शमसुद्दीन राइन उनका फोन नहीं उठा रहा है, अब बसपा से टिकट ना होने के बाद अरशद राणा अपने पैसों की मांग कर बसपा नेताओं के चक्कर लगा रहा है, उचित आश्वासन न मिलने पर अरशद राणा ने बसपा नेता शमसुद्दीन राइन के खिलाफ नगर कोतवाली में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है, तहरीर देने के बाद बसपा नेता थाने में कोतवाल के सामने ही फूट-फूट कर रोने लगा, वही इंस्पेक्टर आनंद देव मिश्रा ने बसपा नेता अरशद राणा को मामले की जांच कर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। मीडिया से बातचीत के दौरान अरशद राणा ने कहा कि अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह लखनऊ स्थित बसपा कार्यालय जाकर आत्महत्या कर लेगा।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

18 + 10 =

Back to top button
Live TV