50 करोड़ व्हाट्सएप यूजर्स का डाटा लीक, व्हाट्सएप ने दी सफाई- ये दावा निराधार स्क्रीनशॉट पर आधारित…

व्हाट्सएप्प खुद यूजर्स की नजर में अपनी विश्वसनीयता खो रहा है. चैट्स एनक्रिप्टेड होने के बावजूद भी यूजर का डाटा व्हाट्सएप्प के पास सुरक्षित नहीं है. साइबरन्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 487 मिलियन लोगों के निजी डाटा पर लीक हो चूका है. जिसमें लाखों की संख्या में भारतीय यूजर्स का डाटा भी शामिल है.

साइबरन्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार, “कोई कथित तौर पर लगभग 500 मिलियन व्हाट्सएप यूजर्स के अप-टू-डेट मोबाइल फोन नंबर बेच रहा है.” इससे दुनिया भर के व्हाट्सएप्प यूजर्स का डाटा लीक होने की आशंका बरकरार है. व्हाट्सएप्प के डाटा में सेंधमारी को लेकर साइबरन्यूज ने अपनी वेबसाइट पर डाटाबेस लीक को लेकर एक विस्तृत जांच रिपोर्ट भी सांझा की है जो बड़े पैमाने पर व्हाट्सएप्प यूजर्स के डाटा लीक की संभावना सच होने की पुष्टि करता है.

साइबरन्यूज की एक रिपोर्ट की माने तो, एक लोकप्रिय हैकिंग फोरम पर बिक्री के लिए डेटाबेस में 84 देशों के व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं की निजी जानकारी शामिल है. दुनिया भर में व्हाट्सएप्प के करोड़ों यूजर्स हैं. मेसेजिंग की फ्री सेवा प्रदान करने वाला यह एप्लीकेशन लोगों द्वारा बड़े पैमाने पर कई उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

ऐसे में साइबरन्यूज की इस रिपोर्ट ने यह खुलासा कर दिया है कि व्हाट्सएप्प खुद यूजर्स की नजर में अपनी विश्वसनीयता खो रहा है. चैट्स एनक्रिप्टेड होने के बावजूद भी यूजर का डाटा व्हाट्सएप्प के पास सुरक्षित नहीं है. साइबरन्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 487 मिलियन लोगों के निजी डाटा पर लीक हो चूका है. जिसमें लाखों की संख्या में भारतीय यूजर्स का डाटा भी शामिल है.

हालांकि, व्हाट्सएप ने इन दावों का खंडन किया है. व्हाट्सएप की तरफ से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि “साइबरन्यूज पर लिखा गया दावा निराधार स्क्रीनशॉट पर आधारित है. व्हाट्सएप से ‘डेटा लीक’ का कोई सबूत नहीं है.”

Related Articles

Back to top button
Live TV