मिर्जापुर: भारतीय किसान यूनियन का जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन, बोले- किसानों की सुनने वाला कोई नही…

जिले में धान खरीद के नाम पर भारी अनियमितता बरती जा रही है। वर्तमान में धान बिक्री के बाद समय पर किसानों का भुगतान न होना सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। एक एक महीने में किसानों का भुगतान हो रहा है। एक नवंबर से शुरू हुई धान खरीद प्रक्रिया में 30 करोड़ से ज्यादा का बकाया है।

बार बार नियम बदलने से किसानों को इस वर्ष धान बेचने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा, आज किसान यूनियन ने मुख्यालय पर प्रदर्शन कर 3 वर्ष पूर्व में किसानों द्वारा धान बेचने के बाद अब तक भुगतान न होने का मुद्दा उठाते हुए प्रदर्शन किया। लगातार किसान इस मामले को लेकर मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे है।

लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नही, अधिकारी सिर्फ किसानो के शोषण कर उन्हें परेशान कर रहे। किसानों ने बाकायदा किसानों के बकाए की पूरी रिपोर्ट जिला प्रशासन को सौंपी उसके बाद भी सुनवाई नही हो पा रहा।

Related Articles

Back to top button
Live TV