एक के बाद एक पीआरडी जवान की छुट्टी, पहले बिना ट्रेनिंग लगाया, अब अनट्रेन बता हटा रहे नौकरी से

रुद्रप्रयाग जिले मे एक के बाद एक पीआरडी जवान की नौकरी से छुट्टी की जा रही, जिसके बाद हड़कम मचा हुआ है। जिन जवानो को हटाया जा रहा है उसके पीछे उनका ट्रेन ना होना बताया जा रहा है।

रुद्रप्रयाग जिले मे एक के बाद एक पीआरडी जवान की नौकरी से छुट्टी की जा रही, जिसके बाद हड़कम मचा हुआ है। जिन जवानो को हटाया जा रहा है उसके पीछे उनका ट्रेन ना होना बताया जा रहा है। अब जब वह कई सालों की सेवा कर चुके है, तो फिर हटाया क्यों जा रहा। जिस वजह से मामला जांच का विषय बन गया है।

पीआरडी विभाग रुद्रप्रयाग ने मौजुदा समय मे अस्सी ऐसे जवानो को चिंहित किया है जो बिना प्रशिक्षण के नौकरी कर रहे थे और इनमे से अभी तक 24 जवानो की नौकरी से छुट्टी भी कर दी है। जिसके बाद से हड़कंप का माहौल बना हुआ है। जिसके बाद से यह सवाल उठ रहे हैं कि जब ये जवान अनट्रेन थे तो नियमो को ताक पर रखकर नौकरी लगाई क्यों और आज उन्ही नियमो का हवाला देकर नौकरी से हटाना सीधे रूप से विभाग की भूमिका पर सवाल खड़े कर रहा है। इस वजह से जिन जवानो को हटाया जा रहा है अब वह मझधार मे फंस गए है।

इस संबंध मे युवा कल्याण अधिकारी वरद जोशी का कहना है पहले इन्हे कैसे लगाया मुझे पता नही, लेकिन ये मानको के खिलाफ है और अगर उच्च स्तर यदि इसमे जाँच के आदेश मिलते है तो की जायेगी। उन्होने कहा कि जो भी जवान अप्रशिक्षित है उसे हटाया जायेगा, अभी तक छब्बीस को हटाया जा चुका है बाकी को हटाने की कार्यवाही जारी है।

बड़ी बात यह भी है की विगत वर्ष मार्च मे हाईकोर्ट ने भी इसमे आदेश दिये थे की अनट्रेन लोगो को नौकरी पर ना लगाया जाय, परंतु इतने लम्बे समय तक विभाग के भीतर खिचड़ी पक रही थी की अब जाकर आनन फ़ानन ने कार्रवाई की जा रही है। अब देखना यह है की क्या इस मामले की जांच होती है और नया मोड इसमे आता है या फिर चिंहित हुए एक के बाद एक पीआरडी जवान को नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा।

Related Articles

Back to top button