सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले भाजपा ने किसानों को अपमानित किया, सपा की सरकार में मिलेगा सम्मान

गाजियाबाद : यूपी में विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होना है। पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की ज्यादातर सीटों पर मतदान होना है, ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियों ने पश्चिम में पूरा जोर लगा रखा है। बीजेपी, सपा और आरएलडी ने पूरा जोर लगा रखा है। एक ओर जहाँ केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मुज़फ्फरनगर में तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बागपत और गाजियाबाद में चुनावी अभियान को धार दे रहे थे। वही सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने गाजियाबाद में संयुक्त प्रेस वार्ता की और बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

सपा प्रमुख ने संवादाता सम्मेलन में कहा की यूपी की जनता ने फैसला सुना दिया है,जो माहौल दिख रहा वही जनता का फैसला है। यूपी की जनता गांधी के हत्यारों को सबक सिखाएगी, किसानों को भाजपा वालों ने आतंकवादी कहा लेकिन किसानों ने बॉर्डर नहीं छोड़ा। यूपी में सपा गठबंधन की सरकार बनेगी,भाजपा ने किसानों को अपमानित करने का काम किया।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव संवादाता सम्मेलन में अन्न की पोटली लेकर पहुँचे थे। उन्होंने कहा कि मैं अपने साथ अन्न लेकर चलता हूं, मेरे साथ लाल टोपी और लाल पोटली हमेशा रहती है। BJP किसानों को कृषि कानून नहीं समझा पाई। सरकार ने 80 करोड़ लोगों को गरीब बनाने का काम किया है।

लॉकडाउन में कई मजदूरों की जान चली गई, सपा और आरएलडी ने मजदूरों की मदद करने का काम किया और 90 मजदूरों को 1-1 लाख रुपए देने का काम हुआ। बीजेपी सरकार ने मजदूरों को पैदल घर भेजने का काम किया है। हमारा देश गरीब होता जा रहा है, सरकार की नाकामी के चलते गरीबी बढ़ी है।

सपा प्रमुख ने जयंत चौधरी की तारीफ करते हुए कहा की जयंत ने किसानों की लड़ाई लड़ी है, हमें खुशी है कि जयंत हमारे साथ हैं। यह चुनाव चौधरी चरण सिंह की विरासत को बचाने का चुनाव है, अजीत सिंह-नेताजी ने साथ लड़ाई लड़ी थी, हम आज उसी लड़ाई को आगे बढ़ा रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
Live TV