द लैंसेट की रिपोर्ट में दावा, कोवैक्सिन की दो खुराक 50% प्रभावी

द लैंसेट इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित भारत के स्वदेशी कोरोनावायरस वैक्सीन के पहले वास्तविक आकलन के अनुसार, कोवैक्सिन की दो खुराक कोविड-19 के सिम्प्टोमैटिक मामलों में संक्रमण के खिलाफ 50% प्रभावी हैं।

द लैंसेट इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित भारत के स्वदेशी कोरोनावायरस वैक्सीन के पहले वास्तविक आकलन के अनुसार, कोवैक्सिन की दो खुराक कोविड-19 के सिम्प्टोमैटिक मामलों में संक्रमण के खिलाफ 50% प्रभावी हैं। 

द लैंसेट के हाल ही में प्रकाशित एक अंतरिम अध्ययन के परिणामों से पता चला है कि कोवैक्सिन की दो खुराक, जिसे BBV152 के रूप में भी जाना जाता है,  सिम्प्टोमैटिक मामले के खिलाफ 77.8% प्रभावी है।

द लैंसेट इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित इस अध्ययन में एम्स, नई दिल्ली के 2,714 अस्पताल कर्मियों का आकलन किया गया, जो इस साल 15 अप्रैल से 15 मई के बीच जो सिम्प्टोमेटिक थे और जिनका COVID​​​​-19 का पता लगाने के लिए RT-PCR परीक्षण किया गया था। आपको बता दे कि देश में अबतक कुल 118 करोड़ 44 लाख से ज्यादा डोज दी गई है। वही पिछले 24 घ़टों में 76 लाख 58 हजार डोज दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − 8 =

Back to top button
Live TV