हिमस्खलन में 2 प्रशिक्षणर्थियों की मौत, कई फंसे, CM धामी ने रक्षा मंत्री से मांगी सेना की मदद, राहत बचाव कार्य जारी

हिमस्खलन के दौरान सभी प्रशिक्षणार्थी वहां फंस गए. जिसके बाद रेस्क्यू अभियान चलाया गया. NDRF, SDRF, सेना और ITBP की टीम रेस्क्यू ऑपेरशन में जुटी. जैसे-जैसे बचाव अभियान आगे बढ़ा, जानकारी मिली कि 2 प्रशिक्षुओं की इस हादसे में मौत हो गई है. ताजा जानकारी के मुताबिक 8 लोग घायल हुए हैं.

मंगलवार को उत्तराखंड के उत्तरकाशी से बेहद दुखद खबर सामने आई. यहां हिमस्खलन की चपेट में आने से माउंटेनियरिंग के 2 प्रशिक्षणार्थियों की मौत हो गई. जानकारी के मुताबिक, उत्तराखंड के द्रौपदी के डांडा-2 पर्वत चोटी में हिमस्खलन हुआ. जब यह घटना हुई तो उस दौरान नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के कुल 28 प्रशिक्षणार्थी ट्रेनिंग पर थे.

हिमस्खलन के दौरान सभी प्रशिक्षणार्थी वहां फंस गए. जिसके बाद रेस्क्यू अभियान चलाया गया. NDRF, SDRF, सेना और ITBP की टीम रेस्क्यू ऑपेरशन में जुटी. जैसे-जैसे बचाव अभियान आगे बढ़ा, जानकारी मिली कि 2 प्रशिक्षुओं की इस हादसे में मौत हो गई है जबकि ताजा जानकारी के मुताबिक 8 लोग घायल हुए हैं.

वहीं इस हादसे को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बात की. उन्होंने रक्षा मंत्री को द्रौपदी के डांडा-2 पर्वत चोटी के हालात के बारे में जानकारी दी और रेस्क्यू अभियान में तेजी लाने के लिए सेना की मदद लेने हेतु अनुरोध किया. केंद्र सरकार ने हर संभव मदद का ऐलान किया है.

इस संबंध में सीएम धामी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर कहा,” द्रौपदी का डांडा-2 पर्वत चोटी में हिमस्खलन होने के कारण नेहरू पर्वतारोहण संस्थान, उत्तरकाशी के 28 प्रशिक्षार्थियों के फंसे होने की सूचना प्राप्त हुई है. मा. रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह जी से वार्ता कर रेस्क्यू अभियान में तेजी लाने के लिए सेना की मदद लेने हेतु अनुरोध किया है, जिसको लेकर उन्होंने हमें केंद्र सरकार की ओर से हर सम्भव सहायता देने के लिए आश्वस्त किया है। सभी को सुरक्षित निकालने हेतु रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है.”

Related Articles

Back to top button