कानपुर: कोरोना केस तेजी से बढ़ने से मची खलबली, काशीराम अस्पताल को बनाया गया L-2 कोविड हॉस्पिटल…

कोरोना के तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमितों के आंकड़े ने शासन-प्रशासन में खलबली मचा दी है। इसे गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी विशाख जी अय्यर ने रामा देवी स्थित कांशीराम अस्पताल को फिर से एल-टू कोविड हास्पिटल घोषित कर दिया है। बुधवार से कांशीराम अस्पताल में ओपीडी और इमरजेंसी सेवाएं बंद हो जाएंगी।

अस्पताल में भर्ती मरीजों को उर्सला और डफरिन अस्पतालों में शिफ्ट करने के निर्देश दिए हैं। कांशीराम अस्पताल को डेडीकेटेड एल-टू कोविड हास्पिटल बना दिया गया है। बुधवार से अब यहां कोरोना के मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जाएगा। इसलिए अस्पताल में ओपीडी, इमरजेंसी सेवाएं, मेडिको लीगल सेवाएं बंद कर दी गईं हैं।

जब इमरजेंसी व ओपीडी में मरीजों न इलाज होगा और न भर्ती होंगे तो इनडोर में भी मरीज नहीं रहेंगे। अस्पताल में तीन शिफ्ट में कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। इसके लिए तीन टीमें बना दी हैं। उसके नर्सिंग स्टाफ, फार्मासिस्ट, वार्ड ब्वाय और वार्ड आया की ड्यूटी लगा दी गई है। उनका ड्यूटी चार्ट भी जारी कर दिया गया है। अस्पताल में कोविड हेल्प डेस्क भी तैयार की गई है।

कोरोना संक्रमित मरीजों के तीमारदार उनका हाल जान सकेंगे। इसके लिए आडियो-वीडियो सिस्टम भी लगाया जाएगा। ताकि मरीजों की अपडेट दी जा सके। जो बात कर सकेंगे, उनकी बात भी कराई जाएगी। कोविड के लिए अस्पताल में 115 बेड हैं। उसमें से 20 बेड आइसीयू, 23 एचडीयू और शेष आइसोलेशन बेड हैं। इसके अलावा 10 बेड का बच्चों का भी वार्ड बनाया गया है। अस्पताल में तीन टीमें शिफ्ट वार काम करेंगे। अस्पताल में भर्ती मरीजों को बुधवार तक उर्सला व डफरिन शिफ्ट करा दिया जाएगा।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 1 =

Back to top button
Live TV