अब केंद्रीय कर्मचारी निजी वाहन पर नहीं लिखा सकेंगे ‘भारत सरकार’, केंद्र ने जारी किया शासनादेश…

दरअसल, अक्सर देखा जाता है कि केंद्रीय कर्मचारी अपने वाहनों पर भारत सरकार लिखा कर चलते हैं. इसे एक वीआईपी कल्चर के रूप में भी देखा जाता है. कतिपय जगहों पर इसका उपयोग धौंस जमाने या कई नियमों के उल्लंघन में किया जाता था.

मंगलवार को केंद्र सरकार ने शासनादेश जारी कर कहा कि अब से सरकारी अफसरों या केंद्रीय कर्मचारी निजी वाहनों पर भारत सरकार नहीं लिखा सकेंगे. भारत सरकार ने यह कदम वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिहाज से शुरू किया है. इसके अलावा कभी कभार ऐसे वाहनों का होने वाले दुरूपयोग को लेकर भी सरकार ने यह शासनादेश जारी किया है.

दरअसल, अक्सर देखा जाता है कि केंद्रीय कर्मचारी अपने वाहनों पर भारत सरकार लिखा कर चलते हैं. इसे एक वीआईपी कल्चर के रूप में भी देखा जाता है. कतिपय जगहों पर इसका उपयोग धौंस जमाने या कई नियमों के उल्लंघन में किया जाता था.

नियमों की धज्जियां उड़ाने में भी इस तरह के वाहनों को पकड़ा गया है. लिहाजा भारत सरकार का यह आदेश इस तरह की अवैध गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए बेहद अहम माना जा रहा है. कई जगहों पर ऐसी गाड़ियों को कोई पार्किंग शुल्क नहीं देना पड़ता था. इसके अलावा तमाम ट्रैफिक नियमों की ऐसी ही गाड़ियां धज्जियां उड़ाते हुए पकड़ी जाती थी.

कई बार तो ऐसे वाहन मालिकों के पास गाड़ी के कागज भी नहीं पाए जाते लेकिन इस वीआईपी कल्चर का वो जबरदस्त फायदा उठाते थे. बहरहाल, केंद्र ने शासनादेश जारी कर ऐसे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है. अब देखना होगा कि यह आदेश कितने प्रभावी तरीके से लागू हो पाता है.

Related Articles

Back to top button