बारात में ना ले जाने पर दोस्त ने अपने ही दोस्त पर कर दिया मानहानि का मुकदमा, अब चुकानी होगी इतनी राशि

यूं तो आपने मानहानि के कई मामले सुने और देखे होंगे पर हरिद्वार में मानहानि का एक अनोखा ही मामला सामने आया है, यहां पर एक व्यक्ति ने अपने ही मित्र पर बारात में ना ले जाने के वजह मानहानि का नोटिस भेज दिया, वो भी मानहानि हजार दो हजार की नही पूरे 50 लाख की साथ ही माफीनामा भी.

Desk : यूं तो आपने मानहानि के कई मामले सुने और देखे होंगे पर हरिद्वार में मानहानि का एक अनोखा ही मामला सामने आया है, यहां पर एक व्यक्ति ने अपने ही मित्र पर बारात में ना ले जाने के वजह मानहानि का नोटिस भेज दिया, वो भी मानहानि हजार दो हजार की नही पूरे 50 लाख की साथ ही माफीनामा भी.

जी हाँ, आपको बता दें कि हरिद्वार के बादराबाद थाना क्षेत्र में रहने वाले रवि पुत्र वीरेंद्र की शादी 23 जून 2022 को धामपुर बिजनौर निवासी अंजू पुत्री रामकृपाल से होनी थी. जिसके लिए उनकी बारात धामपुर बिजनौर जानी थी, इस अवसर पर रवि ने अपने सबसे नजदीकी दोस्त चंद्रशेखर और कुछ अन्य को बारात में चलने के लिए बोला था. लेकिन बारात वाले दिन रवि और उनके परिवार के लोग बिना चन्द्रशेखर को लिए ही बारात लेकर चले गए और फ़ोन पर बात करने पर चन्द्रशेखर को वापस घर जाने के लिए बोलने लगे.

इस बात से दुःखी होकर चन्द्रशेखर ने अपने वकील के माध्यम से अपने मित्र रवि को नोटिस भेजा है जिसमें 3 दिन के भीतर माफी की मांग के साथ 50 लाख की मानहानि का नोटिस दिया गया है. जिस पर चंद्रशेखर ने अपने एडवोकेट अरुण भदौरिया के माध्यम से एक कानूनी नोटिस रवि को भिजवाया है कि 3 दिन के अंदर मानहानि की बाबत सार्वजनिक रूप से क्षमा याचना करें और की गई मानहानि की बाबत चंद्रशेखर को 50 लाख दिया जाना सुनिश्चित करें. यदि अनुपालन नहीं किया गया तो सक्षम न्यायालय में सक्षम वाद दायर किया जाएगा.

इस मामले के सामने आने के साथ ही तरह तरह की बातें हो रही हैं. इस घटना के बाद से लोगों में तरह तरह की चर्चा हो रही है, ये अनोखा मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है.

SHARE

Related Articles

Back to top button
Live TV