इन वैज्ञानिकों को मिला रसायन विज्ञान का नोबेल, इस खोज के लिए USA के कार्ल बैरी शार्पलेस नोबेल से दोबारा हुए सम्मानित

रसायन विज्ञान में एक दशक में दो बार नोबेल पुरस्कार जीतने वाले कार्ल बैरी शार्पलेस नोबेल के इतिहास में दूसरे व्यक्ति हैं. बुधवार को उन्हें कैरोलिन आर. बर्टोज्जी और मोर्टन मेल्डल के साथ संयुक्त रूप से 2022 के नोबेल से सम्मानित किया गया.

बुधवार को रसायन विज्ञान के क्षेत्र में साल 2022 के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा हुई. रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने कैरोलिन आर. बर्टोज्जी, मोर्टन मेल्डल और के. बैरी शार्पलेस को “क्लिक केमिस्ट्री और बायोऑर्थोगोनल केमिस्ट्री के विकास के लिए” रसायन विज्ञान के क्षेत्र में साल 2022 के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया.

रसायन विज्ञान के क्षेत्र में संयुक्त राज्य अमेरिका के दो वैज्ञानिकों कैरोलिन आर. बर्टोज्जी और के. बैरी शार्पलेस को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया. वहीं डेनमार्क के मोर्टन मेल्डल को क्लिक केमिस्ट्री और बायोऑर्थोगोनल केमिस्ट्री के विकास के लिए नोबेल दिया गया. बता दें कि कैरोलिन आर. बर्टोज्जी एक महिला रसायन वैज्ञानिक हैं जो अमेरिका के स्टैंडफोर्ड यूनिवर्सिटी से शोधकार्य कर रही हैं.

रसायन विज्ञान में एक दशक में दो बार नोबेल पुरस्कार जीतने वाले कार्ल बैरी शार्पलेस नोबेल के इतिहास में दूसरे व्यक्ति हैं. बुधवार को उन्हें कैरोलिन आर. बर्टोज्जी और मोर्टन मेल्डल के साथ संयुक्त रूप से 2022 के नोबेल से सम्मानित किया गया.

स्वीडन के करोलिंस्का संस्थान की नोबेल असेंबली द्वारा प्रदान किया जाने वाला यह नोबेल पुरस्कार विज्ञान के क्षेत्र में सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार माना जाता है. बहरहाल, यह पुरस्कार ऐसे समय में दिया गया है जब कोविड महामारी ने चिकित्सा अनुसंधान को दुनिया के केंद्र में रखा है. गौरतलब हो कि जीव विज्ञान, भौतिक विज्ञान और रसायन विज्ञान के क्षेत्र में नोबेल की घोषणा के बाद गुरूवार को साहित्य के क्षेत्र लिए नोबेल पुरस्कार दिया जाएगा.

Related Articles

Back to top button