अलीगढ़: एक महीने से लापता दलित कांग्रेस नेता की हत्या से मचा हड़कंप…

अलीगढ़. अलीगढ़ में एक महीने से गायब कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के महानगर अध्यक्ष नाहर सिंह कठेरिया की हत्या से हड़कंप मच गया है। इसकी जानकारी उस वक्त हुई जब हत्यारोपियों की निशानदेही पर थाना अतरौली इलाके के गाँव तेवथू स्थित मछली पालन के तालाब के पास से गड्ढा खोदकर शव बरामद किया गया। परिजनों के बताए अनुसार, थाना सिविल लाइन इलाके के पान दरीबा निवासी करीब 38 वर्षीय नाहर सिंह जो कि कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के महानगर अध्यक्ष थे।

अलीगढ़. अलीगढ़ में एक महीने से गायब कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के महानगर अध्यक्ष नाहर सिंह कठेरिया की हत्या से हड़कंप मच गया है। इसकी जानकारी उस वक्त हुई जब हत्यारोपियों की निशानदेही पर थाना अतरौली इलाके के गाँव तेवथू स्थित मछली पालन के तालाब के पास से गड्ढा खोदकर शव बरामद किया गया। परिजनों के बताए अनुसार, थाना सिविल लाइन इलाके के पान दरीबा निवासी करीब 38 वर्षीय नाहर सिंह जो कि कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के महानगर अध्यक्ष थे।

सीओ सिविल लाइन के बताये अनुसार परिजनों ने 15 नवंबर की सुबह पुलिस को सूचित किया था कि नाहर सिंह बिन बताए एक दिन पहले 14 नवंबर को निकल गए थे। जिसमें गुमशुदगी दर्ज कर तलाश शुरू कर दी गई। सीओ ने आगे बताया कि, नाहर सिंह की हत्या रुपये लेन-देन के विवाद में अजयपाल सिंह ने 1 लाख 80 हजार रुपये की सुपारी देकर कराई थी। सुरेंद्र नगर तिराहे से गिरफ्तार मोहर सिंह उर्फ वैध जी की निशानदेही पर शव बरामद किया गया।

आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल करते हुए बताया कि उसने अपने दोस्त अजयपाल सिंह जादौन उसके भतीजे पंकज जादौन के साथ मिलकर नाहर सिंह की हत्या 15 नवंबर को करके अपने अतरौली के गाँव तेवथू स्थित मछली पालन के तालाब के बराबर में हत्या कर गड्ढे में गाड़ दिया था। सीओ ने बताया, शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने अब तक इस घटना में 4 हत्यारोपियों में से 3 को जेल भेज दिया है, एक अन्य पंकज की तलाश जारी है। वहीं, पकड़े गए अभियुक्तों से अब तक हत्या में प्रयुक्त कार समेत अन्य सामान बरामद किये गए हैं।

वहीं, हत्या की सूचना पर एकत्रित हुए सपा नेताओं ने कहा कि इस योगी सरकार में दलितों की हत्याएं की जा रही हैं। सरकार से मांग है कि इस घटना के दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। परिवार को 50 लाख रुपये का मुआवजा व एक सरकारी नौकरी दी जानी चाहिए।

SHARE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

thirteen − 2 =

Back to top button
Live TV