केरल ट्रेन में कैमीकल हमले का आरोपी बुलंदशहर से गिरफ्तार

केरल में चलती ट्रेन में कैमीकल अटैक करने वाला हमलावर बुलंदशहर जिले का निवासी निकला है. यूपी एटीएस ने आरोपी की बुलंदशहर के स्याना से गिरफ्तारी की है. रविवार की रात इस ट्रेन में सीट को लेकर हमलावर की कहासुनी हुई जिसके बाद प्लास्टिक की बोतल में लाये गये कैमीकल से हमलावर ने अटैक कर दिया. तेज दौड़ रही ट्रैन में आग लगने से 3 लोगो की मौत हो गयी थी और 8 बुरी तरह झुलस गये थे.

केरल पुलिस ने चश्मदीदों की जानकारी के आधार पर हमलावर का स्कैच जारी किया था. भागते हमलावर का चेहरा एक सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुआ. मौके से आरोपी का मोबाइल फोन बरामद किया गया जो आखिरी बार 30 मार्च को इस्तैमाल किया गया था. इसके बाद इस फोन की सिम निकाल ली गयी. फोन के आईएमईआई के आधार पर यह फोन बुलंदशहर के शाहरूख सैफी का निकला.

शाहरूख सैफी नोएडा, गाजियाबाद और दिल्ली में कार-पेंटर का काम करता था. यूपी एटीएस ने 3 अप्रैल को उसे काम करने के बहाने बुलाया और गिरफ्तार कर लिया. शाहरूख के परिजनों को नही पता कि वह केरल कैसे पहुंचा. केरल पुलिस ने इस वारदात के पीछे आतंकी साजिश होने की आशंका व्यक्त की है. माना जा रहा है कि शाहरूख का हमला गोधरा ट्रैन नरसंहार दोहराने जैसा था.

रविवार की रात अपप्पुझा-कन्नूर एग्जीक्यूटिव एक्सप्रैस में इस वारदात को अंजाम दिया गया. कैमीकल अटैक से पूरे कोच में आग लग गयी. तेजी से भड़की आग की जद में सो रहे मुसाफिर आये और 3 की मौत हो गयी. आग लगने के बाद जलती हुई एक महिला अपनी 2 साल की बच्ची को बचाने के लिए चलती ट्रैन से कूद गयी. दोनो की मौत हो गयी थी. एक अन्य व्यक्ति की लाश भी रेल ट्रैक पर पुलिस को मिली थी. करीब 8 लोगो का अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है.

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यात्रियों ने चेन खींचकर ट्रेन रूकवाई तो आरोपी ट्रैन से कूदकर भाग गया. सीसीटीवी में दर्ज घटनाक्रम के अनुसार प्रत्यक्षदर्शियों ने जिसे आरोपी बताया वह एक मोटरसाइिकल पर सवार होकर फरार हुआ. आशंका है कि यह घटना एक साजिश का हिस्सा था और अटैक से लेकर फरारी तक प्लान की गयी थी. रेल ट्रैक पर मिले मोबाइल से शाहरूख सैफी का कनैक्शन मिला है.

Related Articles

Back to top button
Live TV