Lucknow Building Collapse : DGP डीएस चौहान ने खुद संभाला मोर्चा, CM योगी ने घायलों के शीघ्र स्वस्थ्य लाभ की कामना की

NDRF-SDRF की टीमें मौके पर तैनात कर दी गईं. रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है. युद्धस्तर पर बचाव कार्य चल रहे हैं. ताजा अपडेट के मुताबिक अब तक 12 लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने में रेस्क्यू बलों को सफलता मिली है. राजधानी लखनऊ के सभी अस्पताल अलर्ट पर हैं.

उत्तर प्रदेश समेत दिल्ली एनसीआर में मंगलवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे. इसके कुछ ही घंटों बाद राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में के 5 मंजिली पुरानी ईमारत जमींदोज हो गई. मलबे में कई लोगों के दबे होने की खबर मिलने के बाद प्रशासन के आला अफसर मौके पर पहुंचें। उत्तर प्रदेश के डीजीपी डीएस चौहान ने बताया कि मलबे में फंसे लोगों का रेस्क्यू ऑपरेशन लगभग 12 से 13 घंटे का समय लगेगा.

युद्ध स्तर पर बचाव कार्य शुरू हो गया. NDRF-SDRF की टीमें मौके पर तैनात कर दी गईं. रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है. युद्धस्तर पर बचाव कार्य चल रहे हैं. ताजा अपडेट के मुताबिक अब तक 12 लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने में रेस्क्यू बलों को सफलता मिली है. राजधानी लखनऊ के सभी अस्पताल अलर्ट पर हैं.

इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार बचाव अभियान की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. राज्य पुलिस के मुखिया डीजीपी चौहान खुद मौके पर मोर्चा संभाले हुए हैं. वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है.

सीएम योगी के कार्यालय के तरफ से किए गए ट्वीट में कहा गया है, ” मुख्यमंत्री जी ने लखनऊ में एक पुरानी बिल्डिंग के गिरने की दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ही SDRF व NDRF की टीमों को मौके पर जाकर राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं. सीएम ने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए उनके उपचार की समुचित व्यवस्था व कई अस्पतालों को अलर्ट रहने हेतु भी निर्देशित किया है.”

Related Articles

Back to top button
Live TV