अपराधियों पर पुलिस का शिकंजा…23 गैंगस्टरों की करोड़ों की संपत्ति हुई कुर्क

बता दें कि 23 गैंगस्टरों की 14.23 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की गई है.खनन माफियाओं, गो तस्करों की संपत्तियां कुर्क हुईं है. 11 महीने में 86 अपराधियों पर गैंगस्टर में कार्रवाई की गई है.

मुरादाबाद- मुरादाबाद में SSP हेमराज मीणा के नेतृत्व में पुलिस काफी ज्यादा एक्टिव दिखाई दे रही है. SSP हेमराज मीणा के नेतृत्व में पुलिस का शिकंजा माफियाओं पर बढ़ता जा रहा है. इसी कड़ी में पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है.

बता दें कि 23 गैंगस्टरों की 14.23 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की गई है.खनन माफियाओं, गो तस्करों की संपत्तियां कुर्क हुईं है. 11 महीने में 86 अपराधियों पर गैंगस्टर में कार्रवाई की गई है.

SSP हेमराज मीणा की कार्रवाई से अपराधियों में हड़कंप मचा हुआ है.गैंगस्टर के 86 मामलों में 181 बदमाश अरेस्ट किए.गैंगस्टरों के खिलाफ कार्रवाई का अभियान चल रहा है.

पूरा मामला कुछ इसी तरह से है कि शासन के निर्देश पर पुलिस नगातार अपराधियों पर शिकंजा कस रही है. बीते 11 महीने में सभी बड़े अपराधों का पर्दाफाश करने क साथ ही अपराधियों को सलाखों क पीछे भेजा गया.गैंगस्टर की कार्रवाई करने के साथ ही उनकी संपत्ति को कुर्क कर रही है.पुलिस बीते 11 महीने में 23 गैंगस्टरों की 4.38 करोड़ की संपत्ति को कुर्क किया है.इसमें अपराधियों की जमीन, लाट, आवास, बैंक अकाउंट में नमा रुपये के साथ ही वाहन भी मिल हैं. बीते एक सप्ताह में इसकी गैंग के सदस्यों की 11 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति कर्क करने में जुटी हुई है. पुलिस की ओर से अपराधियों के खिलाफ के खिलाफ एक्शन नहीं लिया जा रहा था.जिससे अपराधियों के हौसले बुलंद हो रहे थे. और अब आज का दिन वो दिन है जब अपराधियों की पुलिस पस्त कर चुकी है.

शहर में बीते दो साल में तीन बड़े हत्याकांड को अंजाम दिया गया था. जिसमें स्पोर्ट्स कारोबारी कशांक गुप्ता, सीए श्वेताभ तिवारी के साथ ही भाजपा नेता अनुज चौधरी को गोली मारकर हत्या की गई थी. इन घटनाओं का पर्दाफाश करने के साथ ही अपराधियों को जेल भेजा गया था. इसके साथ ही बीते 11 महीने में पुलिस ने अवैध खनन माफिया के साथ ही गो तस्करों की संपत्तियों को जब्त किया है. अभी तक 10 अवैध खनन माफिया के साथ ही सात गो तस्करों पर गैंगस्टर की कार्रवाई करते हुए उनकी संपत्तियों को गैंगस्टर के तहत 11 महीने में की एफआईआर दर्ज कर अपराधियों की संख्या गिरफ्तार अपराधियों की संख्या के हिसाब से संपत्ति कुर्क की गई है.

Related Articles

Back to top button
Live TV